पूर्वांचल की राजनीति में हो सकता है बड़ा उलटफेर, राजा भैया और अतीक अहमद कर सकते हैं ‘खेल’

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के बरेली जेल में बंद बाहुबली अतीक अहमद से मिलने के लिये कुंडा विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया के चचेरे भाई अक्षय प्रताप पहुंचे, सूत्रों का दावा है कि दोनों के बीच जेल में करीब आधे घंटे तक बातचीत हुई, कयास ये लगाये जा रहे हैं कि लोकसभा चुनाव को लेकर ये मुलाकात हुई है, आने वाले दिनों में पूर्वांचल की राजनीति के दो धुरंधर कुछ नया करने की घोषणा कर सकते हैं।

हो सकता है राजनीतिक गठजोड़
आपको बता दें कि हाल ही में राजा भैया ने अलग राजनीतिक दल का ऐलान किया है, पूर्वांचल के कुछ सीटों पर राजा भैया का प्रभाव माना जाता है, इसके साथ ही बाहुबलि अतीक अहमद भी चुनाव लड़ते रहे हैं, कहा जा रहा है कि राजा भैया की पार्टी से अतीक का राजनीतिक गठजोड़ हो सकता है, जल्द ही इसका ऐलान होगा।

बाहुबलियों के बीच राजनीतिक डील
यूपी की सियासत पर करीबी नजर रखने वालों का कहना है कि अतीक अहमद और राजा भैया के बीच अगर कोई राजनीतिक डील हो जाती है, तो पूर्वांचल में नये राजनीतिक समीकरण बन सकते हैं, हाल ही में राजा भैया ने जनसत्ता दल के नाम से अलग पार्टी की घोषणा की है, राजा भैया की प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के प्रमुख शिवपाल यादव के साथ भी गठबंधन की बात चल रही है।

जेल से चुनाव लड़ने की तैयारी 
माफिया डॉन अतीक अहमद को हाल ही में देवरिया जेल से बरेली शिफ्ट किया गया है, तब अतीक अहमद ने कहा था कि वो बरेली में रहकर आराम से लोकसभा चुनाव लड़ने की तैयारी करेंगे, हालांकि उन्होने अभी तक अपने पत्ते नहीं खोले हैं, कि वो किस किस पार्टी से चुनाव लड़ेंगे।

अगला ठिकाना जनसत्ता दल 
माना जा रहा है कि राजा भैया के प्रतिनिधि के रुप में उनके चचेरे भाई अक्षय प्रताप अतीक अहमद से मिलने पहुंचे थे, उम्मीद की जा रही है कि आने वाले दिनों में अतीक का अगला ठिकाना जनसत्ता दल हो सकती है, जेल सुपरिटेंडेट उदय प्रताप मिश्रा ने मीडिया को बताया कि अक्षय प्रताप का उनके पास फोन आया था, जिस पर उन्होने उन्हें नियमों से आने को कहा था, शुक्रवार को पूर्व एमएलसी अक्षय प्रताप अपने कुछ साथियों के साथ जेल पहुंचे और अतीक अहमद से मुलाकात की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *