मुलायम के बयान पर बहू की सफाई, कहा-आशीर्वाद देने का मतलब ये नहीं है कि चुनाव जीत जाएं

लखनऊ। यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव के, नरेन्द्र मोदी के दोबारा प्रधानमंत्री बनने की कामना जताने वाले बयान की चर्चा चारो तरफ है. मुलायम के इस बयान पर लगातार प्रतिक्रियाएं आ रही हैं. इसी बीच उनकी छोटी बहू अपर्णा यादव ने भी अपनी बात रखी है. अपर्णा ने कहा, ” उन्होंने वहां मौजूद सभी सदस्यों को दोबारा जीत कर आने की कामना की. इसमें विपक्षी नेता और मौजूदा सरकार दोनों के लोग शामिल थे. बड़े लोग हमेशा आशीर्वाद देते हैं, लेकिन आशीर्वाद देने का मतलब ये नहीं है कि चुनाव जीत जाएं. इसके लिए मेहनत करना जरूरी है. उनकी शुभकामनाएं किसी एक के साथ नहीं बल्कि सभी के साथ हैं’. चुनाव जीतने और लोगों के संपर्क में रहने के लिए आपको बहुत मेहनत करनी पड़ती है.

अपर्णा यादव ने कहा कि उस बयान का मतलब बस सभी को शुभकामनाएं देना था. सपा-बसपा एक बहुत मजबूत गठबंधन है और कई लोग चिंतित हो गए हैं. अपर्णा ने कहा कि उनके कहने का मतलब सिर्फ यह था कि हमें राजनीति पर कम और अपने देश पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए. बुजुर्ग निर्णय लेते हैं, यह उन पर है कि वे एकजुट होना चाहते हैं या नहीं. उन्होंने सपा के लिए बहुत कुछ किया है.

मुलायम ने क्या कहा

मुलायम ने लोकसभा में कहा कि ”नरेंद्र मोदी दोबारा प्रधानमंत्री बनें”. ये बयान ऐसे समय में आया है जब उनके बेटे अखिलेश यादव 2019 में मोदी को रोकने के लिए महागठबंधन बना चुके हैं. खास बात यह है कि यह महागठबंधन अखिलेश ने मुलायम की कट्टर राजनैतिक दुश्मन मानी जाने वाली मायावती के साथ बनाया है. कहा जाता है कि दिल्ली का रास्ता उत्तर प्रदेश से होकर गुजरता है ऐसे में मुलायम का यह बयान काफी अहम हो जाता है.

लोकसभा में मुलायम ने कहा, ”पीएम को बधाई देना चाहता हूं कि पीएम ने सबको साथ लेकर चलने की कोशिश की है. मैं कहना चाहता हूं कि सारे सदस्य फिर से जीत कर आएं और आप (नरेंद्र मोदी) दोबारा प्रधानमंत्री बनें.”