पुलवामा हमले पर जम्मू बंद के दौरान हिंसा, फूंकी गाड़ियां, कर्फ्यू लगा

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में जवानों पर हुए आत्मघाती हमले के बाद देश भर में आक्रोश की लहर है. लोग सड़कों पर उतर आए हैं और प्रदर्शन कर रहे हैं. इस कड़ी में जम्मू बंद के दौरान गुज्जर नगर में प्रदर्शन हिंसक हो उठा. इसके बाद कर्फ्यू लगा दिया गया है. प्रदर्शनकारियों ने कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया.

सुरक्षा बलों ने मौके पर पहुंचकर हालात काबू में कर लिए गए हैं. गाड़ियों में लगी आग को बुझाया जा रहा है. बताया जा रहा है कि प्रदर्शनकारी मुस्लिम बहुल गुज्जर नगर इलाके में पहुंचे और प्रदर्शन करने लगे. इस बीच हिंसा भड़क उठी.

हमले के खिलाफ आज था जम्मू बंद…

पुलवामा में सेना पर हुए हमले के खिलाफ जम्मू चैंबर ऑफ़ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री ने जम्मू बंद बुलाया था. इस दौरान प्रदर्शन करते हुए लोग गुज्जर नगर पहुंचे जहां हिंसा भड़क गई.

शांति बनाए रखने की अपील…

जम्मू के इंस्पेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस एम. के सिन्हा ने शांति बनाए रखने के लिए कहा है. उन्होंने लोगों से अपील की है कि अफवाहों पर ध्यान न दे. शांति और सद्भाव बनाए रखें. देश विरोधी लोगों के झांसे में न आए वो देश का माहौल बिगाड़ना चाहते हैं. हमें उनके नापाक इरादों को नेस्तनाबूद करेंगे.

उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट कर शांति बनाए रखने कहा…

उधर, उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट कर कहा कि सेना पर हम करने वाले कश्मीरी और मुसलमान नहीं थे. लोग शांति बनाए रखें. आतंकवाद को किसी भी धर्म और समुदाय से नहीं जोड़ा जा सकता है. मैं अपील करता हूं कि लोग शांति से काम ले. हमें एक साथ आतंकवाद के खिलाफ खड़ा होना पड़ेगा.

Omar Abdullah

@OmarAbdullah

Kashmiris/Muslims in Jammu didn’t attack our CRPF jawans yesterday, terrorists did. This violence is a convenient tool by some to shift the blame. Let’s unite against terror let’s not allow terror to divide us.

1,292 people are talking about this
गौरतलब है कि कश्मीर में हुए हमले में 40 जवान शहीद हो गए. 2500 जवानों का काफिला पुलवामा जिले में श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग से गुजर रहा था. इस बीच विस्फोटकों से लदी कार जवानों की बस में आ घुसी और तेज विस्फोट हुआ. इस हमले में 40 जवान शहीद हो गए हैं.