यूपी: जब अनुप्रिया का नाम आते ही अखिलेश यादव ने जोड़े हाथ

प्रयागराज: अखिलेश यादव शनिवार को एक दिन के दौरे पर प्रयागराज में थे, वो पुलवामा के शहीद महेश यादव के परिवार वालों से मिलने आए थे. इसी दौरान अखिलेश से जब यूपी में एनडीए के सहयोगी अनुप्रिया पटेल व ओम प्रकाश राजभर की नाराज़गी के बारे में पूछा गया तो उन्होंने इस बारे में कुछ भी बोलने से मना करते हुए हाथ जोड़ लिए. उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर वह कुछ भी नहीं बोलना चाहते. इसके बाद उन्होंने मीडिया वालों के सामने हाथ जोड़ लिए और कोई भी सवाल पूछने से मना कर दिया.

सपा कार्यकर्ताओं की हुल्लड़बाजी से नाराज़ हुए अखिलेश
समाजवादी पार्टी के मुखिया और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव आज प्रयागराज में पार्टी कार्यकर्ताओं की हुल्लड़बाजी का शिकार हो गए. कार्यकर्ताओं द्वारा आपस में धक्का मुक्की किये जाने और बेवजह की नारेबाजी से अखिलेश कई बार नाराज़ हुए और उन्होंने कार्यकर्ताओं को डांट भी लगाई. अखिलेश ने कहा कि उनके कार्यकर्ता काफी ऊर्जावान हैं, लेकिन उन्हें अपनी ऊर्जा लोकसभा चुनाव के लिए बचाकर रखनी चाहिए. चुनाव में कार्यकर्ताओं को काफी मेहनत करनी होगी, तभी मोदी सरकार को हटाकर नई सरकार बनाई जा सकती है.

पुलवामा के शहीद महेश यादव के परिवार वालों से मुलाकात कर उन्हें सांत्वना देने के बाद वह शहर आए. शहर में वह पार्टी सांसद नागेंद्र पटेल और प्रवक्ता ऋचा सिंह के घर गए. दोनों ही जगहों पर पार्टी कार्यकर्ताओं की न सिर्फ भारी भीड़ उमड़ी, बल्कि उत्साही युवा कार्यकर्ताओं ने इस मौके पर जमकर नारेबाजी की और साथ ही हुल्लड़ भी किया. पार्टी कार्यकर्ताओं की धक्का मुक्की की वजह से खुद अखिलेश को भी कई जगह फजीहत झेलनी पड़ी. उन्होंने पार्टी कार्यालय और सर्किट हाउस में कार्यकर्ताओं को अनुशासन में रहने की नसीहत दी और साथ ही उन्हें चुनाव में जीत का मंत्र भी दिया. उन्होंने कहा कि पूरी मेहनत करने के बाद नई सरकार बनाई जा सकती है.