यूपी: चुनाव आयोग पर बिफरीं मायावती, कहा ‘धर्मयुद्ध लड़ने वाली साध्वी को केवल नोटिस क्यों, नामांकन रद्द क्यों नहीं?

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने भोपाल से बीजेपी प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा को लेकर चुनाव आयोग के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. मायावती ने ट्वीट कर कहा, ”भोपाल से बीजेपी प्रत्याशी व मालेगांव ब्लास्ट आरोपी साध्वी प्रज्ञा का दावा है कि वे ’धर्मयुद्ध’ लड़ रही हैं. यही है बीजेपी/आरएसएस का असली चेहरा जो लगातार बेनकाब हो रहा है. लेकिन आयोग केवल नोटिस ही क्यों जारी कर रहा है, बीजेपी रत्न प्रज्ञा का नामांकन क्यों नहीं रद्द कर रहा है?”

Mayawati

@Mayawati

मीडिया की जबर्दस्त आलोचनाओं के बावजूद चुनाव आयोग अगर जनसंतोष के मुताबिक निष्पक्षता से काम नहीं कर रहा है तो यह देश के लोकतंत्र के लिए बड़ी चिन्ता की बात है व इस गिरावट के लिए असली जिम्मेदार कोई और नहीं बल्कि बीजेपी व पीएम श्री मोदी हैं जो गंभीर चुनावी आरोपों से घिरे हैं।

Mayawati

@Mayawati

भोपाल से बीजेपी प्रत्याशी व मालेगांव ब्लास्ट आरोपी साध्वी प्रज्ञा का दावा है कि वे ’धर्मयुद्ध’ लड़ रही हैं। यही है बीजेपी/आरएसएस का असली चेहरा जो लगातार बेनकाब हो रहा है। लेकिन आयोग केवल नोटिसें ही क्यों जारी कर रहा है व बीजेपी रत्न प्रज्ञा का नामांकन क्यों नहीं रद्द कर रहा है?

877 people are talking about this

 

मायावती ने कहा कि चुनाव आयोग निष्‍पक्षता से काम नहीं कर रहा है और यह लोकतंत्र के लिए बड़ी चिंता की बात है. उन्‍होंने कहा कि आयोग के अंदर आई इस गिरावट के लिए असली जिम्‍मेदार बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं जो गंभीर आरोपों से घिरे हुए हैं.

Mayawati

@Mayawati

मीडिया की जबर्दस्त आलोचनाओं के बावजूद चुनाव आयोग अगर जनसंतोष के मुताबिक निष्पक्षता से काम नहीं कर रहा है तो यह देश के लोकतंत्र के लिए बड़ी चिन्ता की बात है व इस गिरावट के लिए असली जिम्मेदार कोई और नहीं बल्कि बीजेपी व पीएम श्री मोदी हैं जो गंभीर चुनावी आरोपों से घिरे हैं।

1,081 people are talking about this
मायावती ने ट्वीट कर कहा, ‘मीडिया की जबर्दस्त आलोचनाओं के बावजूद चुनाव आयोग अगर जनसंतोष के मुताबिक निष्पक्षता से काम नहीं कर रहा है तो यह देश के लोकतंत्र के लिए बड़ी चिन्ता की बात है. इस गिरावट के लिए असली जिम्मेदार कोई और नहीं बल्कि बीजेपी और पीएम मोदी हैं जो गंभीर चुनावी आरोपों से घिरे हैं.

बता दें कि प्रज्ञा ठाकुर ने दिग्विजय सिंह के खिलाफ अपनी लड़ाई को धर्मयुद्ध करार दिया है. मायावती ने प्रज्ञा ठाकुर के इसी बयान पर निशाना साधा है.

भोपाल से बीजेपी के टिकट पर चुनावी मैदान में हैं साध्वी प्रज्ञा ठाकुर

बता दें कि बीजेपी ने लोकसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों की 22वीं सूची जारी कर दी है जिसमें मध्य प्रदेश की चार सीटों के लिए अपने प्रत्याशी घोषित किए हैं. बीजेपी ने भोपाल से साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को टिकट दिया है तो गुना से डॉ केपी यादव को टिकट दिया गया है. भोपाल में साध्वी प्रज्ञा का मुकाबला दिग्विजय सिंह से होगा. भोपाल में कांग्रेस पहले ही दिग्विजय सिंह को अपना उम्मीदवार घोषित कर चुकी है. भोपाल को बीजेपी की सुरक्षित सीट भी माना जाता है, यहां पार्टी पिछले 30 सालों से चुनाव जीतती आ रही है.

गुना से बीजेपी के उम्मीदवार डॉ केपी यादव का मुकाबला कांग्रेस के ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ होगा. इसके अलावा बीजेपी ने विदिशा से रमाकांत भार्गव को टिकट दिया है और सागर से राज बहादुर सिंह को उम्मीदवार बनाया है. विदिशा में मौजूदा सांसद बीजेपी की सुषमा स्वराज हैं और उन्होंने चुनाव लड़ने से इंकार कर दिया था.