वाराणसी में PM मोदी का नामांकन, चौकीदार से लेकर डोमराजा के परिवार से होंगे प्रस्तावक

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी संसदीय सीट से शुक्रवार को नामांकन करने जा रहे हैं. गुरुवार को आयोजित ऐतिहासिक रोड शो के बाद प्रधानमंत्री ने काशी में एक जनसभा को भी संबोधित किया और वहां की जनता से नामांकन करने की अनुमति मांगी. पिछली बार की तरह इस बार भी प्रधानमंत्री मोदी के नामांकन के लिए चार प्रस्तावक खास तौर पर उनके साथ मौजूद रहेंगे. पीएम मोदी आज काल भैरव के दर्शन कर 11 बजे के करीब पर्चा दाखिल करने जा रहे हैं.

इस बार प्रधानमंत्री मोदी के नामांकन के लिए जिन प्रस्तावकों का नाम चर्चा में हैं उनमें चौकीदार से लेकर डोमराजा के परिवार का एक सदस्य भी शामिल है. इस बार के लिए डोमराजा के परिवार से कोई सदस्य पीएम मोदी का प्रस्ताव हो सकता है. इसके अलावा पटेल धर्मशाला के रामशंकर पटेल भी नामांकन में प्रधानमंत्री के प्रस्तावक हो सकते हैं.

सर्वसमाज के प्रतिनिधि

पीएम मोदी के दो अन्य प्रस्तावकों में पाणिनी कन्या महाविद्यालय की प्राचार्य नंदिता शास्त्री और चौकीदार वर्ग से कोई एक शख्स हो सकता है. प्रस्तावकों के जरिए पीएम मोदी सर्वसमाज का प्रतिनिधित्व दिखाना चाहते हैं. यही वजह है कि डोमराज के परिवार समेत नंदिता शास्त्री को पीएम मोदी का प्रस्तावक बनाए जाने की चर्चा है.

पिछले दिनों प्रयागराज में संगम स्नान के दौरान प्रधानमंत्री ने सफाई कर्मियों के पैर धोकर उन्हें सम्मानित करने का काम किया था. साथ ही कांग्रेस के नारे ‘चौकीदार चोर है’ के काउंटर के लिए बीजेपी ने ‘मैं भी चौकीदार’ कैंपेन शुरू किया है. इसी को ध्यान में रखते हुए चौकीदार वर्ग से भी एक सदस्य पीएम मोदी का प्रस्तावक हो सकता है. गुरुवार को गंगा आरती के दौरान भी गंगा नदी में ‘मैं भी चौकीदार’ की सजावत वाली एक नाव खासतौर पर तैयार की गई थी.

पिछली बार ये थे प्रस्तावक

प्रधानमंत्री मोदी ने 2014 में जब पहली बार वाराणसी से लोकसभा चुनाव लड़ा था तब भी उनके प्रस्तावकों का खास तौर पर चयन किया गया था. पिछली बार गिरिधर मालवीय, शास्त्रीय गायक छन्नू लाल मिश्र, मल्लाह समुदाय से भद्रा प्रसाद निषाद और बुनकर समाज से अशोक कुमार प्रधानमंत्री मोदी के प्रस्तावक बने थे. 2014 में शहर के मशहूर चायवाले पप्पू को भी नरेंद्र मोदी का प्रस्तावक बनाने की चर्चा थीं. पिछली बार प्रधानमंत्री ने 24 अप्रैल को अपना नामांकन किया था.