ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ खड़े BSP उम्मीदवार कांग्रेस में हुए शामिल, मायावती बोलीं- कमलनाथ सरकार से समर्थन वापस लेंगे

नई दिल्ली। बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) अध्यक्ष मायावती को कांग्रेस ने एक और बड़ा झटका दिया है. मध्य प्रदेश के गुना लोकसभा सीट से बीएसपी के उम्मीदवार लोकेंद्र सिंह धाकड़ सोमवार को कांग्रेस में शामिल हो गए. गुना सीट से पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कांग्रेस प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया उम्मीदवार हैं. धाकड़ के कांग्रेस में शामिल होने से पार्टी को फायदा मिल सकता है. ज्योतिरादित्य सिंधिया गुना सीट से 4 बार चुनाव जीत चुके हैं. इस सीट से बीजेपी ने केपी यादव को उम्मीदवार बनाया है.

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट कर कहा, ”गुना संसदीय क्षेत्र से बहुजन समाज पार्टी के युवा प्रत्याशी श्री लोकेंद्र सिंह धाकड़ जी ने आज कांग्रेस में शामिल होकर अपना समर्थन हमे दे दिया है – कांग्रेस परिवार में आपका स्वागत है. मुझे पूर्ण विश्वास है की आपके आने से पार्टी और मजबूत होगी.” लोकेंद्र सिंह धाकड़ ने ऐसे समय में कांग्रेस का हाथ पकड़ा है जब शनिवार को बीएसपी अध्यक्ष मायावती की गुना में रैली होने वाली है.

लोकेंद्र सिंह धाकड़ के कांग्रेस में शामिल होने पर बीएसपी अध्यक्ष मायावती भड़क उठी. उन्होंने आज ट्वीट कर कहा कि कांग्रेस सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग कर रही है. साथ ही मायावती ने कहा कि वह कांग्रेस सरकार को समर्थन जारी रखने पर पुनर्विचार करेंगी.

उन्होंने कहा, ”सरकारी मशीनरी के दुरुपयोग के मामले में कांग्रेस भी बीजेपी से कम नहीं. एमपी के गुना लोकसभा सीट पर बीएसपी उम्मीदवार को कांग्रेस ने डरा-धमकाकर जबर्दस्ती बैठा दिया है किन्तु बीएसपी अपने सिम्बल पर ही लड़कर इसका जवाब देगी व अब कांग्रेस सरकार को समर्थन जारी रखने पर भी पुनर्विचार करेगी.” मध्य प्रदेश में बीएसपी ने दो सीटों पर जीत दर्ज की है और कमलनाथ सरकार को समर्थन दे रही है.

मायावती ने आगे कहा, ”साथ ही, यूपी में कांग्रेसी नेताओं का यह प्रचार कि बीजेपी भले ही जीत जाए किन्तु बसपा-सपा गठबंधन को नहीं जीतना चाहिए, यह कांग्रेस पार्टी के जातिवादी, संकीर्ण व दोगले चरित्र को दर्शाता है. अतः लोगों का यह मानना सही है कि बीजेपी को केवल हमारा गठबंधन ही हरा सकता है. लोग सावधान रहें.”

पहला मौका नहीं है जब कांग्रेस ने मायावती को झटका दिया है. कभी बीएसपी में रहे नसीमुद्दीन सिद्दीकी को कांग्रेस ने बिजनौर लोकसभा सीट से उम्मीदवार बनाया है. साथ ही कांग्रेस उत्तर प्रदेश में मजबूती से बीजेपी और एसपी-बीएसपी गठबंधन का मुकाबला कर रही है.