इंजेक्शन लगाकर HIV फैलाता था झोलाछाप डॉक्टर? पुलिस ने हिरासत में लिया

कराची। पाकिस्तान में एक झोलाछाप डॉक्टर पर जानबूझकर HIV फैलाने का आरोप लगाया गया है। कराची की पुलिस ने इस डॉक्टर को स्वास्थ्य संगठनों की शिकायत के बाद गिरफ्तार कर लिया। रिपोर्ट्स के मुताबिक, पाकिस्तान पुलिस ने कहा है कि अदालत उसे यह पता करने के लिए एड्स पीड़ित एक स्थानीय झोलाछाप डॉक्टर को और 2 दिन हिरासत में रखने की इजाजत दे सकती है कि कहीं उसने जानबूझकर दूषित सुइयां लगाकर तमाम बच्चों समेत 150 से अधिक लोगों में HIV तो नहीं फैलाया।

स्थानीय पुलिस प्रमुख वसीम राजा सुमरू ने सोमवार को बताया कि डॉक्टर मुजफ्फर घंघरू को पिछले सप्ताह हिरासत में लिया गया था, जिसने इन आरोपों को खारिज किया है। सुमरू ने बताया कि शुरुआती जांच से संकेत मिला है कि इस डॉक्टर ने अप्रैल से सर्दी जुकाम, दस्त और अन्य बीमारियों के इलाज के दौरान जानबूझकर HIV फैलाया। उन्होंने बताया कि दक्षिणी शहर लरकाना के एक सरकारी अस्पताल में मरीजों में HIV के लक्षण दिखने पर यह पूरा मामला सामने आया।

आपको बता दें कि स्वास्थ्य अधिकारियों के कान उस समय खड़े हो गए जब उन्हें कराची के बाहरी इलाके में डेढ़ दर्जन बच्चों में HIV का संक्रमण पाया। जब मामले की विस्तार से जांच की गई तो दर्जनों और लोग इसकी चपेट में पाए गए। एक स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि दर्जनों लोगों में HIV का संक्रमण पाया गया है जिनमें से अधिकांश छोटे-छोटे बच्चे हैं। आपको बता दें कि पाकिस्तान में एड्स के मामले अपेक्षाकृत कम ही पाए जाते हैं, लेकिन यहां के स्वास्थ्य मंत्रालय ने अब तक HIV के 23,000 से अधिक मामले दर्ज किए हैं।