फिल्मी स्टाइल में पुलिस वैन से बाहर आया ‘गैंगस्टर’, बोलने लगा KGF के डायलॉग

कई बार अपराधियों के जीवन पर फिल्म बनती हैं , तो कई बार अपराधी फिल्मों से प्रभावित होकर उसकी नकल करने की कोशिश करते हैं. ये अपने आपको किसी फिल्मी हीरो से कम नहीं समझते हैं. हाल ही में ऐसा ही एक वीडियो सैयद मोबिन अहमद ने बनाकर ‘टिक टॉक’ पर डाला है. ये वीडियो जमकर वायरल हो रहा है. हैरानी की बात ये कि ये वीडियो नागपुर के कोराडी पुलिस स्टेशन के ठीक सामने बनाया गया है. वीडियो में पुलिस की वैन से सैयद मोबिन अहमद बाहर आता है. बिल्कुल फिल्मी स्टाइल में. इस दौरान फिल्म ‘केजीएफ’ के डायलाग बोले जाते हैं– ‘जो गैंग लेकर आते हैं वो है गैंगस्टर.. वो अकेला आता था.. मान्स्टर’

कौन है सैयद मोबिन अहमद?
सैयद मोबिन अहमद पेशेवर अपराधी है. उसके खिलाफ वाहनों की चोरी के अनेक मामले दर्ज हैं. वो कुख्यात चामा गैंग से जुड़ा हुआ है. उसके अपराधों की लंबी फेहरिस्त को ही देखते हुए दो महीने पहले तड़ीपार किया गया था. लेकिन जिस तरह वो वीडियो में वैन से उतर रहा है और पूरा वीडियो शूट किया गया है उससे पुलिस की भूमिका पर सवाल उठ रहे हैं. सबसे बड़ा सवाल ये है कि पुलिस की मौजूदगी में सैयद मोबिन ने ये वीडियो बनाया कैसे. वो भी पुलिस स्टेशन के ठीक सामने और पुलिस वैन में.

सवाल ये है कि जब सैयद मोबिन अहमद के पास मोबाइल फोन कहां से आया. सवाल ये भी है कि जब वो ये वीडियो बना रहा था तो पुलिस क्या कर रही थी. यहां तक कि उसने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर पोस्ट कर भी दिया और पुलिस सोती रह गई. इस वीडियो को देखकर तो साफ है कि नागपुर में बदमाशों के हौसले किस कदर बुलंद हैं. जब वो सरेआम पुलिस की मौजूदगी में पुलिस थाने के ठीक सामने फिल्मी स्टाइल में अपना वीडियो शूट करता है तो कानून और व्यवस्था की हालत का आंदाजा लगाया जा सकता है.