माया-अखिलेश के सामने नई मुसीबत, चुनाव प्रचार करने के बजाय फरार हुआ प्रत्याशी, लगा है संगीन आरोप

लखनऊ। पूर्वी यूपी का घोसी लोकसभा क्षेत्र इन दिनों सुर्खियों में है, दरअसल यहां सपा-बसपा गठबंधन का प्रत्याशी अतुल राय गिरफ्तारी से बचने के लिये फरार हो गये हैं, आपको बता दें कि गठबंधन प्रत्याशी अतुल राय पर एक छात्रा ने यौन शोषण का आरोप लगाया है, इसी से बचने के लिये वो चुनाव छोड़कर फरार हो गये हैं, अतुल राय ने हाई कोर्ट का भी दरवाजा खटखटाया था, लेकिन वहां से भी उन्हें राहत नहीं मिली, जिसके बाद वो फरार हो गये।

असहज महागठबंधन
स्थानीय पुलिस अतुल राय की गिरफ्तारी के लिये ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है, तो प्रत्याशी प्रचार करने के बजाय बचने के लिये भागता फिर रहा है, इस पूरे घटनाक्रम ने घोसी के वोटरों को पेशोपेश में डाल दिया है, क्योंकि महागठबंधन का प्रत्याशी प्रचार में नहीं है, तो पार्टी विपक्ष पर परेशान करने और फंसाने का आरोप लगा रही है, अतुल राय की वजह से सपा-बसपा गठबंधन के सामने असहज स्थिति पैदा हो गई है।

शोषण का आरोप
आपको बता दें कि वाराणसी की एक लड़की ने प्रत्याशी अतुल राय पर यौन शोषण का आरोप लगाया है,  छात्रा का आरोप है कि अतुल राय अपनी पत्नी से मिलवाने के बहाने उसे अपने घर ले गया, जहां उसे दबोच लिया, बलात्कार करने के बाद गठबंधन नेता ने उसे जान से मारने की धमकी भी दी थी।गैरजमानती वारंट
इस मामले में अतुल राय के खिलाफ इसी महीने 1 मई को मामला दर्ज किया गया है, मामले में कोर्ट ने गठबंधन प्रत्याशी के खिलाफ गैरजमानती वारंट जारी किया है, इसके खिलाफ अतुल राय ने हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था, लेकिन वहां से भी उन्हें निराशा ही हाथ लगी। घोसी से बीजेपी प्रत्याशी हरिनारायण राजभर इस मामले को भी चुनाव में भुनाने की कोशिश कर रहे हैं, जबकि अतुल राय का कहीं अता-पता नहीं है।