गुलाम नबी के बयान पर पप्पू यादव ने लगाई मुहर, फिर पलटी मार सकते हैं नीतीश कुमार, बिहार में सियासी भूकंप

पटना। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने दावा किया, कि अगर बीजेपी की सीटें कम रह गई और केन्द्र में गैर बीजेपी की सरकार बनने की स्थिति आई, तो नीतीश कुमार एनडीए छोड़ आ सकते हैं, अब कांग्रेस नेता के बयान का समर्थन करते हुए मधेपुरा सांसद पप्पू यादव ने कहा है कि चुनाव के बाद सुशासन बाबू यूपीए में चले जाएंगे, इसके साथ ही उन्होने तर्क ये दिया है कि बिहार के विकास के आधार पर और अपने स्वाभाव की वजह से नीतीश अपनी गलतियों को सुधारेंगे, और वापस यूपीए में जाएंगे। पप्पू यादव ने कहा कि लालू परिवार की गलतियों की वजह से बीच में नीतीश यूपीए में नहीं आ पाये।

यूपीए में जाएंगे
मधेपुरा सांसद ने कहा कि इस मामले में पहले नीतीश कुमार से गलती हुई, फिर हम लोगों से भी गलती हुई, लेकिन अपने स्वाभाव की वजह से सुशासन बाबू अपनी गलती को सुधारेंगे, और वापस यूपीए में आएंगे, पप्पू यादव ने कहा कि नीतीश की राजनीति से ऐसा लगता है कि ऐसा जरुर करेंगे।

एनडीए का सफाया हो जाता 
पप्पू यादव ने कहा कि अगर ये गलती ना हुई होती, तो यूपी की तरह ही बिहार में भी बड़ा महागठबंधन बना होता, एनडीए का पूरी तरह से सफाया हो जाता, नीतीश को लालू द्वारा लिखी चिट्ठी को आधार बनाते हुए पप्पू यादव ने लालू परिवार पर निशाना साधा, और कहा कि तीर और लालटेन, जाति और धर्म अपराध नहीं है, बल्कि अपराध तो ये नेता है, लालू यादव ने सेंटीमेंटल होकर आखिरी चरण में पत्र लिखा है, जब उनके परिवार के लोग चुनाव लड़ रहे हैं।

लालू परिवार पर हमला 
सांसद ने कहा कि लालू यादव ने चिट्ठी लिखी, लेकिन ये पहले क्यों नहीं लिखी गई, उन्होने ये भी सवाल पूछा कि दो साल पहले आपको तीर और लालटेन की चिंता क्यों नहीं हुई, प्रगति और विकास आपके लिये बाधक क्यों रहा है, जब सब कुछ बिजली से चलता है।