नॉर्थ-ईस्ट राज्यों का Exit Poll: अरुणाचल, मणिपुर और त्रिपुरा में बीजेपी करेगी क्लीन स्वीप

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2019 के आखिरी चरण की रविवार को वोटिंग संपन्न हुई. जिसके बाद आजतक-एक्सिस माय इंडिया के लोकसभा चुनाव 2019 पर एग्जिट पोल जारी किया. देश के सभी उत्तरी-पूर्वी राज्यों के एग्जिट पोल के आंकड़े जुटाने के लिए आजतक-एक्सिस माय इंडिया ने 12 हजार 461 लोगों से बातचीत की. यह चुनावी सर्वे अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड, त्रिपुरा और सिक्कम के चुनाव पर आधारित है.

एग्जिट पोल के नतीजों के मुताबिक अरुणाचल प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) अन्य दलों का सूपड़ा साफ करती दिख रही है. बीजेपी के यहां दोनों सीट पर कब्जा करने की उम्मीद है. अगर वोट शेयर की बात करें तो अरुणाचल प्रदेश में बीजेपी का 56 फीसदी, कांग्रेस का 27 फीसदी और अन्य का 17 प्रतिशत वोट शेयर रहने की आशंका है.

मणिपुर में 2 लोकसभा सीटें हैं, जिन पर एग्जिट पोल के नतीजों में बीजेपी का कमल खिलने की बात कही गई है.  पार्टी को यहां 44 फीसदी वोट शेयर मिलने की उम्मीद है. तो वहीं कांग्रेस का यहां खाता खुलता नहीं दिख रहा है. हालांकि उसका वोट शेयर 33 फीसदी रहने की आशंका है जबकि अन्य दलों का वोट शेयर प्रतिशत 17 रह सकता है.

एग्जिट पोल के मुताबिक मेघालय की 2 लोकसभा सीटों में से एक पर कांग्रेस जीतेगी तो वहीं नेशनल पीपल्स पार्टी (एनपीपी) के खाते में भी एक सीट आएगी. बीजेपी यहां इस बार अपना खाता नहीं खोल पाएगी. अगर वोट शेयर (प्रतिशत) की बात करें तो यहां की शिलॉन्ग लोकसभा सीट पर कांग्रेस का 44 फीसदी, यूडीपी का 28 फीसदी, बीजेपी का 16 फीसदी और अन्य का 12 प्रतिशत वोट शेयर रहने की उम्मीद है. तो वहीं तुरा लोकसभा सीट पर कांग्रेस को 46 फीसदी, एनपीपी को 45, बीजेपी को 9 फीसदी मिलने की बात कही गई है.

नगालैंड, सिक्किम और मिजोरम तीनों राज्यों में एक-एक लोकसभा सीट हैं. आजतक-एक्सिस माय इंडिया के एग्जिट पोल के अनुसार नगालैंड और मिजोरम की सीट कांग्रेस के खाते में जाएगी जबकि सिक्कम में एसडीएफ/एसकेएम जीत दर्ज करेगी. नगालैंड में कांग्रेस का 54 फीसदी, एनडीपी का 34 फीसदी और अन्य का 12 फीसदी वोट शेयर प्रतिशत रह सकता है.

वहीं मिजोरम में बीजेपी को 11 फीसदी, एमएनएफ को 38 फीसदी, जेडपीएम+कांग्रेस को 46 फीसदी और अन्य 5 फीसदी को वोट शेयर मिलने का जिक्र है जबकि सिक्किम में एसडीएफ को 44 फीसदी, एसकेएम को 46 फीसदी, बीजेपी को 2 फीसदी, कांग्रेस को शेयर 6 फीसदी और अन्य को 2 फीसदी वोट शेयर मिलने की आशंका है.

एग्जिट पोल में त्रिपुरा की दोनों लोकसभा सीटों पर बीजेपी का ‘कमल’ खिलने की उम्मीद है. बीजेपी यहां अन्य दलों का सूपड़ा साफ करेगी. त्रिपुरा में उसका वोट शेयर 51 फीसदी रहने की आशंका है, जबकि कांग्रेस को 31 फीसदी, एलएफ को 13 फीसदी, आईपीएफटी को 3 फीसदी और अन्य को 2 फीसदी वोट शेयर मिलने की उम्मीद है.  गौरतलब है कि देश में सभी 543 लोकसभा सीटों पर सात चरणों में चुनाव हुआ. 19 मई को सातवें और आखिरी चरण की वोटिंग हुई. 23 मई को मतगणना के बाद नतीजे घोषित किए जाएंगे.