मनमोहन सिंह के दिग्गज मंत्री का बड़ा बयान, आ सकता है सियासी भूचाल, कांग्रेस को अमित शाह की जरुरत

नई दिल्ली। कभी कांग्रेस के दिग्गज नेताओं में गिने जाने वाले और गांधी परिवार के बेहद करीबी रहे पूर्व विदेश मंत्री नटवर सिंह ने एक निजी न्यूज चैनल से बात करते हुए कांग्रेस की हार पर बहुत कुछ कहा है, उन्होने कहा कि कांग्रेस पार्टी को अमित शाह जैसे मजबूत और तेज-तर्रार शख्स की आवश्यकता है, जो फिलहाल होता नहीं दिख रहा है, उन्होने बीजेपी के संगठन प्रबंधन की भी तारीफ की, नटवर सिंह ने पार्टी में फैली ऊहापोह और असफलता के लिये पार्टी के आला नेताओं पर निशाना साधा।

कांग्रेसी सीएम इस्तीफा क्यों नहीं देते
आपको बता दें कि करारी हार के बाद राहुल गांधी ने कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में कुछ बड़े कांग्रेसी नेताओं के नाम लिये थे, उन्होने कहा था कि इन लोगों ने अपने बेटों के टिकट के लिये जोर लगाया, इस पर पूर्व विदेश मंत्री ने कहा कि जब पार्टी अध्यक्ष ने साफ-साफ कह दिया, उसके बाद भी ये सीएम अभी तक पद पर क्यों बनें हैं, इन्हें तो खुद इस्तीफा दे देना चाहिये।

दौर बदल चुका है
नटवर सिंह ने कहा कि कांग्रेस में ये परंपरा रही है कि अगर वर्किग कमेटी की बैठक में आपका लीडर कुछ कह देता है, और चीजें बाहर आ जाती है, तो आपको खुद ही कहना चाहिये, कि हम को पहले ही घर जा रहे हैं, लेकिन अब ये नहीं हो रहा है, मैं खुद 25 साल कांग्रेस वर्किंग कमेटी का सदस्य रहा हूं, नेहरु जी, पटेल जी और गांधी जी के दौर अलग थे, अब छोड़ दीजिए।एक सप्ताह में कांग्रेस का नया अध्यक्ष 
पूर्व विदेश मंत्री ने राहुल गांधी के इस्तीफे के जिद पर कहा कि बड़ा सवाल ये है कि अगर राहुल गांधी अध्यक्ष पद छोड़ देंगे, तो उसे संभालेगा कौन, उन्होने तो पहले ही साफ कर दिया है कि मेरी बहन प्रियंका, मां सोनिया गांधी नहीं आएंगे, तो फिर अगला अध्यक्ष कौन होगा, नटवर सिंह के मुताबिक ऐसे हालात में राहुल गांधी का पद नहीं छोड़ना बेहतर होगा, हालांकि उन्होने ये भी कहा कि अगले एक सप्ताह में अगले अध्यक्ष को लेकर तस्वीर साफ हो जाएगी।गठबंधन करना चाहिये था
आम चुनाव में कांग्रेस की रणनीति पर सवाल खड़े करते हुए नटवर सिंह ने कहा कि कांग्रेस को यूपी और दिल्ली में गठबंधन कर लेना चाहिये था, ऐसा करने से कम से कम वोट को बढता ही, साथ ही पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने प्रियंका गांधी को इन चुनावों में उतारने पर भी सवाल खड़े किये, उन्होने कहा कि अगर मैं होता तो प्रियंका को कम से कम दो साल पहले लाने की सलाह देता, आखिरी तीन महीने में कोई क्या कर सकता है। नटवर सिंह ने कांग्रेस की व्यवस्था पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि कांग्रेस की वर्किग कमेट से 50 साल के ऊपर के सारे नेताओं को किनारे करने की जरुरत है, पार्टी को कार्यकर्ताओं की आवश्यकता है, जबकि कार्यकर्ता कम और नेता ज्यादा हो गये हैं।