पाकिस्तान ने इन 3 गेंदबाजों के सामने घुटने टेके, एक का तो यह पहला ICC World Cup है

आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप (World Cup 2019) शुरू होने से 38 दिन पहले इंग्लैंड पहुंची पाकिस्तानी टीम की शुरुआत बेहद खराब रही है. कहां तो पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने दूरदर्शिता अपनाते हुए अपनी टीम को काफी पहले इंग्लैंड पहुंचा दिया था और कहां उनके क्रिकेटर आयाराम-गयाराम की तरह कदमताल करते नजर आए. पाकिस्तान की टीम (Pakistan) शुक्रवार को वेस्टइंडीज के खिलाफ महज 21.4 ओवर में 105 रन पर आउट हो गई. वेस्टइंडीज (West Indies) के गेंदबाजों ने पाकिस्तान को जिस तरह से समेटा, उससे लगा कि वे 1975 और 1979 के बाद इंग्लैंड में तीसरा विश्व कप जीतने के लिए पूरी तरह तैयार हैं. पाकिस्तान को सस्ते में समेटने में इन तीन गेंदबाजों की भूमिका रही…

22 साल के ओशाने थॉमस ने जमाया विकेटों का चौका 
वेस्टइंडीज की ओर से सबसे अधिक विकेट ओशाने थॉमस (Oshane Thomas) ने झटके. 22 साल के थॉमस जब पहली बार गेंदबाजी करने आए तो पाकिस्तान का स्कोर तीन विकेट पर 50 रन था. उन्होंने अपना शिकार पाकिस्तान के सबसे भरोसेमंद बल्लेबाज बाबर आजम को बनाया. इसके बाद मोहम्मद हफीज, शादाब खान और वहाब रियाज को भी आउट किया. उनका स्पेल 5.4-0-27-4 रहा. ओशाने थॉमस का यह पहला वर्ल्ड कप है. उन्होंने पिछले साल अक्टूबर में भारत के खिलाफ डेब्यू मैच खेला था.

कप्तान जेसन होल्डर की शानदार बॉलिंग 

वेस्टइंडीज के कप्तान जेसन होल्डर (Jason Holder) की गिनती खतरनाक गेंदबाजों में नहीं होती. वे उन गेंदबाजों में से एक हैं, जो अपनी लाइन-लेंथ पर नियंत्रण रखते हुए बीच के ओवर निकालते हैं. लेकिन गेंदबाजों की मददगार पिच पर उनकी सटीक लाइन-लेंथ पाकिस्तानियों की होश उड़ाने लगी. होल्डर ने अपना पहला शिकार विरोधी कप्तान सरफराज अहमद को बनाया. फिर इमाद वसीम और हसन अली को भी चलता कर दिया. उनका स्पेल 5-0-42-3 रहा. होल्डर का यह दूसरा वर्ल्ड कप है.

वेस्टइंडीज का तीसरा घातक गेंदबाज वह रहा, जिसकी बल्लेबाजी से दुनिया खौफ खाती है. हम बात कर रहे हैं आंद्रे रसेल (Andre Russell) की. उन्होंने इस मैच में महज तीन ओवर की गेंदबाजी कर दो विकेट झटक लिए. उन्होंने ओपनर फखर जमां को बोल्ड किया और चौथे नंबर के बल्लेबाज हैरिस सोहैल को विकेटकीपर शाई होप के हाथों कैच कराया. रसेल का यह तीन विश्व कप में 11वां मैच है. उन्होंने इनमें से आठ मैचों में दो या इससे अधिक विकेट झटके हैं. अगर सिर्फ वर्ल्ड कप की बात करें तो उन्होंने लगातार पांचवें मैच में दो विकेट झटके हैं. उनका स्पेल 3-1-4-2 रहा.