मोदी सरकार में शामिल होने से मना करने वाले नीतीश का कैबिनेट विस्तार आज, BJP को नहीं मिलेगी जगह- सूत्र

पटना। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में शामिल होने से मना करने वाले बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू चीफ नीतीश कुमार अपना कैबिनेट विस्तार आज करेंगे. सूत्रों के मुताबिक नीतीश कैबिनेट में इस बार बीजेपी के नेताओं को जगह नहीं मिलेगी. नीतीश कैबिनेट में जेडीयू के 8 नामों में दो अगड़े और 6 पिछड़े नेता शामिल होंगे. नीतीश कैबिनेट का विस्तार आज सुबह 11 बजे होगा.

तीन मंत्रियों के सांसद बन जाने के बाद तीन मंत्री पद खाली

बता दें कि नीतीश सरकार में तीन मंत्रियों के सांसद बन जाने के बाद तीन मंत्री पद खाली हैं. जिसको भरने के लिए आज होगा विस्तार. जिसमें ललन सिंह, पशपति पारस और दिनेश चंद्र यादव शामिल हैं. वहीं,मुजफ्फरपुर कांड को लेकर मंजू वर्मा ने समाज कल्याण मंत्री पद से इस्तीफा दिया था. ऐसे में यह पद भी पहले से खाली है.

बता दें कि ललन सिंह बिहार सरकार में जल मंत्री थे वहीं दिनेश चंद्र यादव लघु सिंचाई और आपदा प्रबंधन मंत्री का पदभार संभाल रहे थे. इसके अलावा एलजेपी के पशुपति कुमार पारस पशु और मछली संसाधन मंत्रालय की कमान संभाल रहे थे.

बिहार सरकार के मंत्रिमंडल में 11 मंत्री पद खाली

अभी बिहार सरकार के मंत्रिमंडल में 11 मंत्री पद खाली हैं. नीतीश मन्त्रिमण्डल में एक बार फिर से जेडीयू के श्याम रजक शामिल होंगे. पहली बार जेडीयू प्रवक्ता नीरज सिंह भी मंत्री बनेगें. कांग्रेस से जेडीयू आए अशोक चौधरी के साथ-साथ राम सेवक कुशवाहा औऱ नरेंद्र नारायण यादव भी बनेंगे मंत्री. साथ ही नीतीश अपने खास संजय झा को भी मंत्रिमंडल में शामिल करेंगे. लक्ष्मेश्वर राय और जीतन राम मांझी की कैबिनेट में रहीं बीमा भारती भी मंत्री होंगी.

केंद्रीय मंत्रीमंडल में जेडीयू शामिल नहीं

इसके पहले नीतीश कुमार ने केंद्रीय मंत्रीमंडल में जेडीयू के शामिल होने से इंकार कर दिया था. केंद्र में जेडीयू को सिर्फ एक सीट दी जा रही थी. जबकि नीतीश आनुपातिक प्रतिनिधत्व चाहते थे. बिहार की कुल 40 लोकसभा सीटों में से बीजेपी ने 17, जेडीयू ने 16 और एलजेपी ने छह सीटों पर जीत दर्ज की. एक सीट कांग्रेस के खाते में गई.