पश्चिम बंगालः ममता बनर्जी ने बीजेपी दफ्तर को किया पेंट, लिखा टीएमसी

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में बीजेपी टीएमसी कार्यकर्ताओं द्वारा झड़पों का सिलसिला अब दफ्तर कब्जाने तक पर पहुंच गया है. दोनों ही पार्टियां एक दूसरे पर दफ्तर कब्जाने का आरोप लगा रही है. समाचार एजेंसी एएनआई द्वारा एक खबर के मुताबिक जिस दिन दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पद की शपथ ले रहे थे उस वक्त पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी बीजेपी के दफ्तर पर कब्जा कर उसपर टीएमसी का रंग पोत रहीं थीं. ममता बनर्जी 24 परगना जिले के नैहाटी में पहुंची और उन्होंने भगवा रंग से पुते बीजेपी के दफ्तर पर काला रंग पोतकर उसपर टीएमसी का सिंबल बना दिया. ममता ने हाथ में ब्रश लेकर काले रंग से यह पुताई की.

ममता बनर्जी का आरोप है कि बीजेपी लोगों ने उनकी पार्टी के दफ्तरों पर कब्जा कर लिया है. ऐसा बताया जा रहा है कि जिस बिल्डिंग पर ममता बनर्जी ने पेंट किया है उस पर बैरकपुर से बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह के समर्थकों ने  कब्जा कर लिया था. अर्जुन सिंह ने टीएमसी के दिनेश त्रिवेदी को हराया है.

ममता ने तृणमूल नेताओं से बीजेपी द्वारा कब्जाए गए तृणमूल के दफ्तरों पर फिर से काबिज होने को कहा
इसके अगले दिन बीजेपी के साथ राजनीतिक लड़ाई तेज करने की कोशिश करते हुए ममता बनर्जी ने भगवा पार्टी द्वारा कब्जा किए गए तृणमूल कांग्रेस कार्यालयों पर पार्टी के नेताओं को यथाशीघ्र अपना कब्जा कायम करने को कहा. तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने पार्टी की विस्तारित कोर कमेटी की एक बैठक की है. उन्होंने अपने भाई कार्तिक बनर्जी और राज्य के मंत्री ब्रात्य बसु को पार्टी के संगठन ‘जय हिंद वाहिनी’ का क्रमश: प्रमुख और चेयरमैन बनाया है. तृणमूल कांग्रेस सांसद काकोली घोष दस्तीदार को ‘बंग जननी वाहिनी’ का चेयरमैन निुयक्त किया गया है.

ममता ने राज्य में आरएसएस का मुकाबला करने के लिए बृहस्पतिवार को इन दोनों संगठनों की घोषणा की.  तृणमूल के एक नेता ने बताया, ‘‘ममता ने कहा कि बंगाल के लोग गद्दारों को नहीं छोड़ेंगे. उन्हें मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा. ’’