IAF के एंटोनोव एएन-32 विमान की दुर्घटना के मिले संकेत, हेलीकॉप्‍टर्स को नहीं दिखा मलवा

नई दिल्‍ली। भारतीय वायुसेना के लापता हुए विमान एंटोनोव एएन-32 का अभी तक कुछ पता नहीं चल सका है. सोमवार शाम भारतीय वायुसेना को इस  विमान के दुर्घटना से संबंधित कुछ ग्राउंड रिपोर्ट मिली थीं. जिसके बाद संभावित दुर्घटना स्‍थल के लिए भारतीय वायुसेना के हेलीकॉप्‍टर्स को रवाना किया गया, लेकिन इन हेलीकॉप्‍टर्स को संभावित दुर्घटना स्‍थल पर विमान का मलवा नजर नई आया. भारतीय वायु सेना ने लापता एंटोनोव एएन-32‍ विमान की तलाश को तेज कर दिया है. संभावना जताई जा रही है कि जल्‍द ही इस विमान को खोज निकाला जाएगा.

भारतीय वायुसेना के अनुसार, एंटोनोव एएन-32 ने सोमवार दोपहर 12 बजकर 27 मिनट पर जोरहाट से मेछूका एडवांस लैंडिंग ग्राउंड के लिए उड़ान भरी थी. जिसके बाद, इस विमान का संपर्क ग्राउंड एजेंसियों के साथ करीब एक बजे तक रहा. दोपहर करीब एक बजे के बाद इस विमान का ग्राउंड एजेंसियों के साथ कोई संपर्क स्‍थापित नहीं हो सका. एंटोनोव एएन-32 जब का इंतजार गंतव्‍य एयरबेस पर किया गया. जब यह विमान अपने अनुमानित समय पर भी गंतव्‍य एयरबेस पर नहीं पहुंचा, इसके बाद भारतीय वायुसेना ने इस विमान की तलाश में अपनी कार्रवाई शुरू की.

भारतीय वायुसेना के अनुसार, लापता हुए इस विमान में चालक दल के 8 सदस्‍य और 5 यात्री सवार थे. लापता विमान की खोजने के लिए भारतीय वायुसेना ने अपने सी-130, एएन-32 विमान, सहित दो एमआई-17 विमानों को रवाना किया. इसके अलावा, भारतीय सेना के एएलएच हेलिकॉप्‍टर भी लापता विमान को खोजने के लिए भेजे गए हैं. भारतीय सेना के अनुसार, तलाशी अभियान के दौरान भारतीय वायु सेना को संभावित दुर्घटना स्‍थल के बारे में कुछ ग्राउंड रिपोर्ट मिली थी. जिसके बाद संभावित दुर्घटना स्‍थल के लिए हेलिकॉप्‍टर्स को रवाना किया गया था.

उन्‍होंने बताया कि संभावित दुर्घटना स्‍थल पर वायुसेना के हेलिकॉप्‍टर्स को अब तक लापता विमान का कोई मलबा नहीं दिखा है. भारतीय वायु सेना लापता विमान के स्‍थान का पता लगाने के लिए भारतीय सेना, विभिन्‍न सरकारी तथा गैर-सरकारी एजेंसियों के साथ समन्‍वय बना रही है. इसके अलावा, भारतीय सेना के कुछ दलों को विमान को खोजने के लिए भेजा गया है. भारतीय वायुसेना के अनुसार, लापता विमान को खोजने की कार्रवाई  पूरी रात जारी रहेगी.