BREAKING NEWS

पीएम मोदी को मालदीव का सर्वोच्‍च नागर‍िक सम्‍मान, बोले-मालदीव और भारत की दोस्‍ती अमर रहे

माले। नरेंद्र मोदी दोबारा प्रधानमंत्री निर्वाचित होने के बाद पहली विदेश यात्रा पर मालदीवपहुंचे. यहां पहुंचने पर पीएम मोदी का पारंपर‍िक ढंग से स्‍वागत किया गया. उनके सम्‍मान में मालदीव की महिलाओं ने पारंपर‍िक नृत्‍य पेश किया. मालदीव की राजधानी मालदीव में प्रधानमंत्री मोदी को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया.

इस मौके पर मालदीव के राष्‍ट्रपति मोहम्‍मद सोलिह भी मौजूद रहे. गार्ड ऑफ ऑनर के दौरान भारत का राष्‍ट्रगान भी बजाया गया. गार्ड ऑफ ऑनर के बाद प्रधानमंत्री ने मालदीव के प्रत‍िनि‍धि‍मंडल के साथ साथ मुलाकात की. मालदीव के राष्‍ट्रपत‍ि सोल‍िह ने उनका अपने नेताओं से परिचय कराया. औपचारिक कार्यक्रमों के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मालदीव का सर्वोच्‍च नागर‍िक सम्‍मान निशान इज्‍जुद्दीन दि‍या गया. उन्‍हें ये सम्‍मान राष्‍ट्रपति मोहम्‍मद सोलिह ने दिया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस सम्‍मान को ग्रहण करने के बाद कहा, इस सम्‍मान को पाने के बाद मैं बहुत गर्व का अनुभव कर रहा हूं. ये सिर्फ मेरा सम्‍मान नहीं है, ये दोनों देशों की दोस्‍ती और संबंधों का सम्‍मान है. अपने भाषण की समाप्‍त‍ि पर मोदी ने कहा, मालदीव और भारत की दोस्‍ती अमर रहे.

इसके बाद वह वहां की संसद को संबोधि‍त करेंगे. 2014 के बाद से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब तक कुल 10 देशों की संसद को संबोध‍ित कर चुके हैं. इनमें मॉरीशस और नेपाल जैसे देश शामिल हैं.

इस कार्यक्रम के बाद भारत और मालदीव के प्रत‍िनि‍ध‍िमंडल के बीच वार्ता भी हुई. इसमें दोनों देशों के प्रत‍िनिध‍िमंडल शामिल हुए.

प्रधानमंत्री मोदी को सर्वोच्च सम्मान
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मालदीव की यात्रा के दौरान देश के सर्वोच्च सम्मान ‘रूल ऑफ निशान इज्जुद्दीन’ से सम्मानित किया गया.  लोकसभा चुनाव में भाजपा की शानदार जीत के बाद मोदी दूसरी बार प्रधानमंत्री बने हैं और वह सत्ता संभालने के बाद पहली बार द्विपक्षीय दौरे पर शनिवार को मालदीव पहुंचे.

मालदीव के विदेश मंत्री शाहिद ने ट्विटर पर कहा कि ‘द मोस्ट ऑनरेबल ऑर्डर ऑफ द डिस्टींगुइश्ड रूल ऑफ निशान इज्जुद्दीन’ मालदीव का सर्वोच्च सम्मान है जिसे विदेशी हस्तियों को दिया जाता है.

मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह ने मोदी को सर्वोच्च सम्मान ‘द मोस्ट ऑनरेबल ऑर्डर ऑफ द डिस्टींगुइश्ड रूल ऑफ निशान इज्जुद्दीन’ से सम्मानित करने का निर्णय किया. शाहिद ने ट्वीट में ‘नमस्कार और स्वागतम’ शब्द का भी इस्तेमाल किया.

प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को कहा कि मालदीव की उनकी यह यात्रा भारत की ‘पड़ोसी प्रथम’ की महत्वपूर्ण नीति को दर्शाता है.