केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने राज्यपाल बनने की दी बधाई तो सुषमा ने कहा- ये खबर सच नहीं है

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज ने उन अटकलों को खारिज किया है जिसमें दावा किया गया था कि उन्हें राज्यपाल बनाया जा सकता है. ये अटकलें तब शुरू हुई जब केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता डॉ हर्षवर्धन ने ट्वीट कर सुषमा स्वराज को राज्यपाल बनने की बधाई दी. तब तक गृहमंत्रालय या राष्ट्रपति भवन की तरफ से इस संबंध में कोई सूचना नहीं दी गई थी.

बीजेपी के वरिष्ठ नेता हर्षवर्धन ने कहा, ”बीजेपी की वरिष्ठ नेता और मेरी दीदी, पूर्व विदेश मंत्री श्रीमती सुषमा स्वराज जी को आंध्र प्रदेश का राज्यपाल बनने पर बहुत बधाई व शुभकामनाएं. सभी क्षेत्रों में आपके लंबे अनुभव से प्रदेश की जनता लाभान्वित होगी.”

हालांकि हर्षवर्धन ने एक घंटे के भीतर इस ट्वीट को हटा लिया और सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर सफाई दी. उन्होंने कहा, ‘‘आंध्र प्रदेश के राज्यपाल के तौर पर मेरी नियुक्ति की खबरें सच नहीं हैं.’’

सुषमा स्वराज ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ”मुझे विदेश मंत्रालय का कार्यभार छोड़ने के लिए भारत के उपराष्ट्रपति श्री वेंकैया नायडू जी की ओर से बुलाया गया था. यह ट्विटर के लिए मुझे आंध्र प्रदेश का राज्यपाल नियुक्त करने के लिए काफी था.” गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने भी इन खबरों को खारिज कर दिया.

Sushma Swaraj

@SushmaSwaraj

The news about my appointment as Governor of Andhra Pradesh is not true.

3,945 people are talking about this

Sushma Swaraj

@SushmaSwaraj

I called on the Vice President of India Shri Venkaiah Naidu ji on demitting office as Minister of External affairs. This was enough for Twitter to appoint me as the Governor of Andhra Pradesh.

4,042 people are talking about this
आपको बता दें कि सुषमा स्वराज ने इस बार चुनाव से पहले ही ऐलान किया था कि वे लोकसभा चुनाव में नहीं लड़ेंगी. चुनाव में बीजेपी की जीत के बाद राजनीतिक गलियारों में यह चर्चा थी कि सुषमा स्वराज को राज्यसभा भेजकर मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में भी मंत्री पद दिया जा सकता है. लेकिन सुषमा स्वराज मंत्री नहीं बनी.