अफगानिस्तान के उलटफेर से बाल-बाल बचा भारत, ये रहे मैच के टर्निंग पॉइंट

टीम इंडिया ने आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 में शनिवार को रोमांचक मैच में अफगानिस्तान को 11 रनों से हरा दिया. अफगानिस्तान ने गेंद से बेहतरीन प्रदर्शन कर भारत को 50 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 224 रनों पर रोक दिया था, लेकिन उसके बल्लेबाज लक्ष्य हासिल नहीं कर पाए और 49.5 ओवरों में 213 रनों पर ढेर हो गए. अफगानिस्तान के खिलाफ भारत को जीत के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ी. लेकिन अंत में शमी की हैट्रिक और बुमराह की कसी गेंदबाजी से टीम इंडिया ने बाजी मार ली. इस मैच में तीन ऐसे टर्निंग पॉइंट थे जिससे टीम इंडिया की जीत संभव हो पाई, नहीं तो तस्वीर कुछ और भी हो सकती थी.

1. मोहम्मद शमी की हैट्रिक: मौजूदा वर्ल्ड कप में चार मैच नहीं खेलने के बाद शमी को पहली बार मौका मिला था. शमी को भुवनेश्वर के चोटिल होने के बाद इस मैच में टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया और उन्होंने आते ही उन्होंने कमाल कर दिया. मोहम्मद शमी ने इस मैच में हैट्रिक लगाकर भारत को अफगानिस्तान के खिलाफ 11 रनों से जीत दिला दी. 225 रनों का पीछा करने उतरी अफगानिस्तान को आखिरी ओवर में 16 रनों की जरूरत थी. नबी ने पहली गेंद पर चौका मार अपना अर्धशतक पूरा किया और भारत के माथे पर शिकन ला दी, लेकिन शमी ने अगली गेंद खाली निकाली और ओवर की तीसरी गेंद पर नबी को लोग ऑन पर हार्दिक पांड्या के हाथों कैच कर मैच भारत के पक्ष में कर दिया. अगली दो गेंदों पर शमी ने अफताब आलम और मुजीब उर रहमान के विकेट ले अफगानिस्तान को 49.5 ओवरों में 213 रनों पर ढेर कर भारत को इस विश्व कप में चौथी जीत दिलाई. शमी ने शानदार वापसी कर न सिर्फ अपना नाम इतिहास में दर्ज कराया बल्कि भारत को उलटफेर का शिकार होने से बचा लिया.

2. बुमराह के सटीक यॉर्कर: इस मैच में जो टीम इंडिया के लिए सबसे बड़ा टर्निंग पॉइंट साबित हुआ वह स्टार गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की गेंदबाजी थी. बुमराह ने अहम मौकों पर सटीक और खतरनाक यॉर्कर डालकर अफगानिस्तान बल्लेबाजों को बड़े शॉट लगाने से महरूम रखा. यही दोनों टीमों के बीच में अंतर रहा. आखिरी दो ओवरों में अफगानिस्तान को जीत के लिए 21 रन चाहिए थे. यहां बुमराह ने 49वां ओवर फेंका और सिर्फ पांच रन दिए. बुमराह के इस किफायती ओवर की वजह से अफगानिस्तान को आखिरी ओवर में 16 रन बनाने की चुनौती मिली. फिर शमी के आखिरी ओवर की पहली गेंद पर चौका पड़ने से अफगानिस्तान को और बल मिल गया था लेकिन शमी ने शानदार वापसी कर अफगानिस्तान को 212 रन पर ढेर कर दिया. इस मैच में बुमराह ने 2 विकेट लिए. लेकिन, उनकी धारदार गेंदबाजी से ही भारत को जीत मिली.

3. कोहली-जाधव का अर्धशतक: मैच में विराट कोहली और केदार जाधव ने अर्धशतक लगाकर भारत का स्कोर 224 रनों तक पहुंचाया. अगर कोहली और जाधव ये पारियां नहीं खेलते तो भारत की परेशानियां और भी बढ़ सकती थी. कोहली ने 67 और जाधव ने 52 रन बनाए. अफगानिस्तान के गेंदबाजों ने भारत की कड़ी परीक्षा ली. भारत के सिर्फ दो बल्लेबाज विराट कोहली (67) और केदार जाधव (52) ही अर्धशतक जमा पाए.