बीच विश्वकप में युवराज के बाद इस दिग्गज गेंदबाज ने की संन्यास की घोषणा

टीम इंडिया के पूर्व तेज गेंदबाज मनप्रीत सिंह गोनी ने क्रिकेट के सभी प्रारुपों से रिटायरमेंट का ऐलान कर दिया है। इस बात की जानकारी पीसीए के प्रवक्ता सुशील कपूर ने दी, उन्होने बताया कि गोनी बेहतरीन गेंदबाज रहे, उन्होने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में पंजाब को कई मैच जिताये, कड़ी मेहनत से उन्होने टीम इंडिया में भी जगह बनाई, सुशील कपूर ने पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन की ओर से गोनी के फैसले का स्वागत करते हुए उन्हें भविष्य के लिये शुभकामनाएं दी।

इंटरनेशनल करियर
आपको बता दें कि 36 वर्षीय मनप्रीत गोनी ने अपने क्रिकेट करियर में 2 वनडे मैच और 61 फर्स्ट क्लास, 55 लिस्ट ए मैच और 90टी-20 मैच खेले, गोनी ने अपना पहला वनडे इंटरनेशनल साल 2008 में हांगकांग के खिलाफ खेला था, तो दूसरा वनडे बांग्लादेश के खिलाफ खेला था।

आईपीएल से मिली पहचान 
मनप्रीत गोनी को राष्ट्रीय स्तर पर पहचान आईपीएल से मिली, साल 2008 से लेकर 2010 तक वो धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपरकिंग्स के सदस्य रहे, इस दौरान उन्होने धारदार गेंदबाजी की, फिर 2011 और 2012 में डेक्कन चार्जर्स हैदराबाद की ओर से खेले, फिर 2013- 2017 तक किंग्स इलेवन पंजाब टीम का हिस्सा रहे, साव 2018 और 2019 में वो मुंबई इंडियंस का हिस्सा थे, हालांकि उन्हें कम ही मौके मिले।

अब यहां दिखाएंगे जौहर 
भले गोनी ने इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया हो, लेकिन इस खेल से उनका मोह नहीं छूटा है, इस साल कनाडा में आयोजित होने वाले लोबल टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट में वो टोरंटो नेशनल फ्रेंचाइज टीम की ओर से खेलते दिखेंगे। आपको बता दें कि इसी महीने स्टार बल्लेबाज युवराज सिंह ने भी इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहा है।