टीम इंडिया को मिली शानदार जीत फिर भी खुश नहीं हैं वीरेन्द्र सहवाग, इशारों में कह दी बड़ी बात

टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेन्द्र सहवाग ने स्पिनरों के खिलाफ भारतीय बल्लेबाजी की रक्षात्मक नीति की आलोचना की है, गुरुवार को मैनचेस्टर में खेले गये मुकाबले में भारतीय बल्लेबाज धीमे गेंदबाजों के खिलाफ संघर्ष करते दिखे, भारतीय खिलाड़ियों को स्पिन गेंदबाजी खेलने में माहिर माना जाता है, लेकिन अफगानिस्तान के खिलाफ राशिद खान और मुजीब उर रहमान के खिलाफ बल्लेबाज जूझते नजर आये, गुरुवार को खेले गये वेस्टइंडीज के खिलाफ मुकाबले में भी फाबियन एलेन ने खिलाफ बल्लेबाज सहज नहीं लग रहे थे।

इतने रक्षात्मक क्यों 
वीरेन्द्र सहवाग ने ट्विटर पर लिखा, राशि खान ने 4 ओवर में 25 रन दिये, फिर अगले 6 ओवरों में उन्होने सिर्फ 13 रन ही दिये, और फाबियन एलन ने 5 ओवर में 34 रन लुटाये थे, लेकिन फिर अगले पांच ओवर में उन्होने सिर्फ 18 रन दिये, स्पिनरों के खिलाफ इतना रक्षात्मक नहीं खेल सकते ।

धीमी बल्लेबाजी 
अफगानिस्तान के खिलाफ मुकाबले में स्पिन और धीमी गति के गेंदबाजों के सामने भारतीय बल्लेबाज कुछ खास नहीं कर सके, केदार जाधव और धोनी ने अफगानिस्तान के स्पिनरों का सामना किया, दोनों कई डॉट बॉल खेल गये, वो स्ट्राइक रोटेट करने में भी नाकाम दिख रहे थे, जिसकी वजह से टीम बड़ा स्कोर करने में नाकाम रही, वेस्टइंडीज के खिलाफ मुकाबले में भी फाबियान एलेन ने पहले 5 ओवर में 34 रन दिये थे, लेकिन बाद के 5 ओवर में सिर्फ 18 रन ही दिये।

वेस्टइंडीज को हराया
वेस्टइंडीज के खिलाफ मुकाबले में टीम इंडिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया, पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम ने 50 ओवर में 268 रन बनाये, जवाब में कैरेबियाई टीम 143 रनों पर ऑलआउट हो गई, इस हार के साथ ही वेस्टइंडीज की टीम विश्वकप सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर हो गई, टीम इंडिया इस टूर्नामेंट की एक मात्र अजेय टीम है, अह अगला मुकाबला रविवार 30 जून को इंग्लैंड से है।