कश्मीर घाटी में आतंकियों के बीच पड़ गई है फूट, इस वजह से एक-दूसरे की ले रहे हैं जान

कश्मीर घाटी से आये दिन कहीं ना कहीं मुठभेड़ या फिर ग्रेनेड हमले या आतंकी हमले की खबरें आती रहती हैं, लेकिन अब घाटी में सक्रिय आतंकियों के बीच आपस में ही फूट पड़ने लगी है, आतंकी संगठनों की अलग-अलग विचारधारा और उसका टकराव उनके लिये बड़ी जंग बनता जा रहा है। इंटेलिजेंस सूत्रों का दावा है कि कश्मीर में प्रो इस्लामी और प्रो पाकिस्तानी आतंकी अपनी विचारधारा को लेकर एक-दूसरे के खिलाफ हो चुके हैं, और एक-दूसरे की जान ले रहे हैं।

सर्च ऑपरेशन 
अनंतनाग के बिजबेहारा में बुधवार शाम आतंकियों के बीच मुठभेड़ हो गई, दरअसल सुरक्षा बलों ने इस इलाके में रोज की तरह सर्च ऑपरेशन चलाया था, लेकिन सुरक्षा बल तब हैरान रह गये, जब बिना किसी शुरुआती एक्शन के दूसरी ओर से गोलियां चलने लगी, दूसरे दिन एक आतंकी की लाश मिली और एक को घायल अवस्था में गिरफ्तार किया गया।

विचारधारा की लड़ाई
मारे गये आतंकी की पहचान आदिल अहमद डास के रुप में हुई है, आदिल इस्लामिक स्टेट हिंद संगठन से जुड़ा है, वहीं उसका साथी आरिफ भट लश्कर-ए-तैयबा से जुड़ा है, एनकाउंटर में घायल भट को अस्पताल पहुंचाया गया। गुरुवार को एक लीडिंग वेबसाइट ने दावा किया, कि आदिल पहले लश्कर-ए-तैयबा से जुड़ा था, लेकिन विचारधारा के टकराव के बाद उसने लश्कर के गिरोह को छोड़ आईएसआईएस ज्वाइन कर लिया।

क्यों हो रहे टकराव
इंटेलिजेंस सूत्रों के मुताबिक ये आतंकी संगठनों के बीच विचारधारा की लड़ाई है, इसके साथ ही विदेशी आतंकी और प्रो पाकिस्तानी आतंकियों की हरकतों से लोकल आतंकी परेशान भी हैं, सूत्रों के अनुसार कश्मीर घाटी में दोनों अपने वर्चस्व के लिये लड़ रहे हैं, एक महीने पहले दक्षिण कश्मीर को शोपियां में आतंकी इश्फाक अहमद सोफी के मारे जाने के बाद इस्लामिक स्टेट ने घाटी में नई ब्रांच का ऐलान किया था, जिसके बाद आतंकियों के आपसी टकराव की ये पहली घटना है।