World Cup 2019: चयनकर्ताओं नहीं, कप्तान कोहली और कोच शास्त्री की पसंद हैं मयंक अग्रवाल

कर्नाटक के ओपनर मयंक अग्रवाल आईसीसी विश्व कप (World Cup 2019) में खेलने के लिए बुधवार को टीम इंडिया से जुड़ गए. उन्हें चोटिल ऑलराउंडर विजय शंकर के टीम से बाहर होने के बाद इंग्लैंड बुलाया गया है. मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) का टीम में चयन थोड़ा चौंकाने वाला है. माना जा रहा है कि मयंक अग्रवाल कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) की पसंद हैं. कप्तान और कोच के कहने पर ही मयंक अग्रवाल को रिजर्व अंबाती रायडू (Ambati Rayudu) पर वरीयता दी गई और उन्हें विश्व कप टीम में जगह मिली.

दरअसल, एमएसके प्रसाद के नेतृत्व में चयनकर्ताओं ने विश्व कप के लिए 15 सदस्यीय टीम की घोषणा की थी, तभी रिजर्व खिलाड़ी भी घोषित किए गए थे. लेकिन उनकी जगह मयंक अग्रवाल को टूर्नामेंट में खेलने के लिए इंग्लैंड बुलाया गया. ऐसे में सवाल उठता है कि आखिरी मिनट चयनकर्ताओं ने अपना निर्णय क्यों बदला.

सूत्रों के मुताबिक रायडू की बजाय मयंक को टीम में शामिल करने का निर्णय पांच सदस्यीय चयन समिति ने नहीं, टीम प्रबंधन ने लिया. सूत्र ने कहा, ‘टीम प्रबंधन ने साफ कर दिया था कि वे चोटिल शंकर की जगह मयंक को टीम में शामिल करना चाहते हैं. चयनकार्ताओं का इस पर चर्चा करने का कोई सवाल ही नहीं था.’

Ravi Shastri 30
भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री और कप्तान विराट कोहली. (फोटो: ANI) 

यह भी माना जा रहा है कि ओपनर मयंक के टीम में शामिल होने से लोकेश राहुल को दोबारा मध्यक्रम में भेजा सकता है जिससे टीम का संतुलन और बेहतर होगा. हालांकि, सूत्र ने बताया कि इंडिया-ए के लिए मयंक के दमदार प्रदर्शन ने उन्हें विश्व कप का टिकट दिलाया.

सूत्र ने कहा, ‘अगर आप ‘ए’ टीम के खिलाफ हुई वनडे सीरीज में मयंक का रिकॉर्ड देखें तो उन्होंने चार पारियों में दो शतक के साथ 287 रन बनाए. लीस्टरशायर के खिलाफ वॉर्म-अप मैच में आप उनके 151 रन को नहीं भूल सकते. वह सीरीज भी जून और जुलाई में खेली गई थी. आम धारणा यही है कि वह बहुमुखी हैं और किसी भी परिस्थिति के अनुकूल हो सकते हैं.’ भारतीय टीम शनिवार को श्रीलंका का सामना करेगी.