LIVE: संकट में कुमारस्वामी सरकार, समर्थन वापस ले मुंबई रवाना हुए निर्दलीय MLA

नई दिल्‍ली। कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस सरकार को बचाने की कवायद जोरों पर है.सोमवार को कर्नाटक सरकार में शामिल सभी कांग्रेस मंत्रियों को डिप्‍टी सीएम जी परमेश्‍वर ने अपने घर पर ब्रेकफास्‍ट पर बुलाया है. इसके लिए सभी मंत्री पहुंचे हैं. सूत्रों के अनुसार जी परमेश्‍वर की ओर से सभी कांग्रेस मंत्रियों को इस्‍तीफा देने के लिए कहा जाना है. ताकि कांग्रेस-जेडीएस के असंतुष्‍ट विधायकों को मंत्री पद ऑफर किया जा सके. इसी क्रम में कांग्रेस सांसद डी के सुरेश ने दावा किया है कि कर्नाटक सरकार में शामिल सभी कांग्रेस मंत्री इस्‍तीफा देने जा रहे हैं. वहीं कर्नाटक के मंत्री और निर्दलीय विधायक नागेश ने मंत्री पद से इस्‍तीफा दे दिया है.

मुख्‍यमंत्री एचडी कुमारस्‍वामी रविवार देर शाम अमेरिका से बेंगलुरु पहुंचे. उन्‍होंने जेडीएस के विधायकों के साथ अहम मीटिंग की. उन्‍होंने उपमुख्‍यमंत्री और कांग्रेस नेता जी परमेश्‍वर के साथ भी बैठक की. सूत्रों के अनुसार कांग्रेस और जेडीएस के इस्‍तीफा दे चुके विधायकों को मनाने के लिए अब उन्‍हें मंत्री पद का ऑफर देने पर विचार हो रहा है.

जी परमेश्‍वर के आवास पर ब्रेकफास्‍ट के लिए पहुंचे मंत्रियों में यूटी खादर, शिवशंकर रेड्डी, वेंकटरमनप्‍पा, जयमला, एमबी पाटिल, कृष्‍णा गौड़ा, राजशेखर पाटिल, डीके शिवकुमार शामिल हैं. कांग्रेस नेता सिद्धारमैया भी जी परमेश्‍वर के घर पर मौजूद हैं.

कर्नाटक कांग्रेस ने पार्टी के नौ बागी विधायकों के शनिवार के इस्तीफे के बाद इस संकट से निपटने के लिए नौ जुलाई को अपने सभी 78 विधायकों की बैठक बुलाई है. इससे पहले कांग्रेस के विधायक आनंद सिंह (विजयनगर) ने एक जुलाई को इस्तीफा दे दिया था, जिसे मिलाकर बागी विधायकों की संख्या 10 हो गई है.

कांग्रेस प्रवक्ता रवि गौड़ा ने कहा, “कांग्रेस विधायक दल (सीएलपी) के नेता सिद्धारमैया ने सभी विधायकों को निर्देश दिया है कि वे मंगलवार (नौ जुलाई) को सुबह 9.30 बजे विधानसभा भवन के कॉन्फ्रेंस हॉल में सभी मुद्दों पर चर्चा करें, जिसमें शनिवार को इस्तीफा देने वालों की चिंताएं भी शामिल हैं.”