अलकायदा के आतंकी जवाहरी की भारत को गीदड़भभकी, कश्मीर में आतंकियों को भड़काने वाला संदेश जारी किया

नई दिल्ली। ओसामा बिन लादेन के आतंकी संगठन अल कायदा के खूंखार आतंकी अल जवाहिरी ने कश्मीर को लेकर भारत को गीदड़भभकी दी है. कश्मीर में आतंक को भड़काने वाला संदेश जारी किया है. जवाहिरी ने ‘Don’t Forget Kashmir’ (कश्मीर को मत भूलना) नाम से संदेश में भारत को चेताया ही नहीं बल्कि कश्मीर में आतंक फैलाने वाले आतंकियों का महिमामंडन किया है.

अल कायदा की मीडिया शाखा अस सहाब ने जवाहिरी का जो संदेश जारी किया है उसमें आतंकी जाकिर मूसा की भी फोटो भी लगाई गई है. मकसद साफ है अल जवाहिरी कश्मीर के आतंकियों की नजर में आकर उनका समर्थन लेना और समर्थन देना चाहता है. लेकिन एक बात और हैरान करती है कि जवाहिरी अपने संदेश में पाकिस्तान की आलोचना करता है.

आतंकियों को जेहादी-मुजाहिदीन बताते हुए जवाहिरी ने कहा है कि कश्मीर में लड़ रहे जेहादियों को पाकिस्तानी की एजेंसियों के चंगुल से मुक्त होना चाहिए. मुजाहिदीनों को शरिया के हिसाब से अपनी नीति बनानी चाहिए. जवाहिरी अल्लाह की दुहाई देकर आतंक को बढ़ावा देने के लिए उकसाया है जवाहिरी ने. अलकायदा कश्मीर में भारतीय सुरक्षाबलों के खिलाफ जिहाद छेड़ने के लिए एक अपस्टार्ट समूह तैयार करने की कोशिश में है.

इस मामले पर रक्षा विशेषज्ञ मेजर जनरल (रिटा.) जीडी बक्शी ने एबीपी न्यूज़ से कहा, “पाकिस्तान के ऊपर बहुत भारी अंतरराष्ट्रीय दबाव है. पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था चरमरा रही है. पाकिस्तान की आईएसआई जवाहरी को मोहरे की तरह इस्तेमाल कर रही है. जवाहरी को मोहरा बना कर पाकिस्तान दुनिया को दिखाना चाहता है कि वो आतंकवाद के खिलाफ है. आईएसआई ने ओसामा बिल लादेन का भी इस्तेमाल किया था.”

बक्शी ने कहा कि हमें सावधान रहने की जरूरत है. वक्त आ गया है कि कश्मीर के आतंकियों के खिलाफ बेहद कड़ी कार्रवाई की जाए. पत्थरबाजों के खिलाफ भी सख्त एक्शन होना चाहिए.”