वनडे में आज तक नहीं हुआ ऐसा घटिया प्रदर्शन, 1 के फेर में फंसे बल्लेबाज

आईसीसी वर्ल्ड कप-2019 के सेमीफाइनल में टीम इंडिया के टॉप-3 बल्लेबाजों ने बेहद घटिया प्रदर्शन किया. मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रेफर्ड में न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत के टॉप-3 बल्लेबाज 5 रन के स्कोर पर चलते बने. 240 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया की शुरुआत घटिया रही.

सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा (1), केएल राहुल (1) और विराट कोहली (1) जल्दी लौट गए. वनडे इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ जब किसी टीम के टॉप-3 बल्लेबाज 1 रन के निजी स्कोर पर आउट हुए हो.

सेमीफाइनल से पहले रोहित की पिछली 3 पारियों को देखें तो उन्होंने 102, 104 और 103 रनों की पारियां खेली. रोहित के इस प्रदर्शन को देखते हुए क्रिकेट फैंस उनसे एक बार फिर लंबी पारी की आस लगाए थे. सेमीफाइनल जैसे अहम मुकाबले में फेल होने के बाद बड़े मैचों में रोहित शर्मा के प्रदर्शन पर सवाल उठने लगे हैं. वहीं, केएल राहुल इस वर्ल्ड कप में रन तो बनाए, लेकिन ऐन मौके पर टीम के काम नहीं आए.

विराट कोहली की बात करें तो वह वर्ल्ड कप 2015 सेमीफाइनल मैच में भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक रन बनाकर आउट हुए थे. यह पहला मौका नहीं है जब विराट कोहली वर्ल्ड कप के किसी नॉकऑउट मैच में फ्लॉप हुए हैं.

इससे पहले कोहली 2011 वर्ल्ड कप सेमीफाइनल मैच में पाकिस्तान के खिलाफ महज नौ रन बनाकर आउट हुए थे. उस मैच में वह तेज गेंदबाज वहाब रियाज की गेंद पर उमर अकमल के हाथों कैच आउट हुए थे.