आजम के बयान पर सदन में हंगामा, स्मृति बोलीं, ऐसी टिप्पणी संसद के बाहर करते तो पुलिस कार्रवाई करती’

नई दिल्ली। लोकसभा में गुरुवार (25 जुलाई) को सपा सांसद आजम खान कुछ ऐसा बोल गए, जिसके बाद सदन में हंगामा हो गया. हंगामा थामा नहीं, बल्कि दूसरे दिन भी लोकसभा में आजम खान के द्वारा दिए गए बयान पर काफी हंगामा हुआ. सदन की अध्यक्षता कर रहीं बीजेपी सांसद रमा देवी को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर बीजेपी सांसदों ने आजम खान से माफी की मांग की. बीजेपी सांसदों ने कहा कि अगर वह माफी नहीं मांगते हैं, तो उन्हें सदन से बर्खास्त किया जाना चाहिए.

केंद्रीय मंत्री और अमेठी से बीजेपी सांसद स्मृति ईरानी ने कहा कि कल सदन में महिलाओं का अपमान किया गया, जिसे पूरे देश ने देखा है. उन्होंने कहा कि सपा सांसद आजम खान को बीजेपी की महिला सांसद से माफी मांगनी चाहिए और अगर वह ऐसा नहीं करते हैं, तो उन्हें सदन से बर्खास्त कर देना चाहिए. उन्होंने कड़े लहजे में कहा कि कोई भी सांसद ऐसी टिप्पणी सदन से बाहर करता तो पुलिस अबतक कार्रवाई कर चुकी होती.

दरअसल, लोकसभा में तीन तलाक बिल पर चर्चा के दौरान समाजवादी पार्टी से रामपुर सांसद आजम खान की एक टिप्पणी पर बवाल मच गया. आजम खान ने अपनी बात की शुरुआत एक शेर ‘तू इधर-उधर की ना बात कर…’ से की, लेकिन इसके बाद जो आजम खान ने कहा, उस पर भारतीय जनता पार्टी की ओर से हंगामा शुरू हो गया. जिस वक्त आजम खान बोल रहे थे तब स्पीकर की कुर्सी पर बीजेपी सांसद रमा देवी बैठी हुई थीं. मामले ने तूल पकड़ा तो आजम खान ने कहा कि अगर उन्होंने कुछ भी ऐसा बोला हो जो सदन की कार्यवाही के लिए गलत हो तो वह इस्तीफा देने के लिए तैयार हैं. इसके बाद आजम खान सदन छोड़कर चले गए.