महबूबा मुफ्ती बोलीं, ‘कश्‍मीर में अतिरिक्‍त जवानों की तैनाती से डर फैल रहा’

नई दिल्‍ली। केंद्र सरकार की ओर से जम्‍मू-कश्‍मीर में सुरक्षा के लिहाज से तैनात किए गए 10 हजार अतिरिक्‍त सुरक्षाबलों को लेकर पूर्व मुख्‍यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने निशाना साधा है. महबूबा मुफ्ती ने शनिवार को ट्वीट कर कहा कि केंद्र सरकार की ओर से कश्‍मीर घाटी में की गई 10 हजार जवानों की अतिरिक्‍त तैनाती से लोगों में डर व्‍याप्‍त हो रहा है.

 

Mehbooba Mufti

@MehboobaMufti

Centre’s decision to deploy additional 10,000 troops to the valley has created fear psychosis amongst people. There is no dearth of security forces in Kashmir. J&K is a political problem which won’t be solved by military means. GOI needs to rethink & overhaul its policy.

465 people are talking about this
उन्‍होंने कहा कि कश्‍मीर घाटी में वैसे भी सुरक्षाबलों की कोई कमी नहीं है. जम्‍मू-कश्‍मीर राजनीतिक समस्‍या है, सेना इसका हल नहीं है. केंद्र सरकार को इस मामले में दोबारा विचार करने और अपनी नीतियों में बदलाव करने की जरूरत है.

बता दें कि जम्‍मू-कश्‍मीर में सुरक्षा के लिहाज से गृह मंत्रालय ने आदेश जारी कर राज्‍य में सुरक्षाबलों की 100 अतिरिक्‍त कंपनियां तैनात करने का निर्णय लिया है. इस आदेश के मुताबिक केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की 50 अतिरिक्‍त कंपनियां जम्‍मू और कश्‍मीर में तैनात की जाएंगी. इसके साथ ही दिल्‍ली से सीआरपीएफ की 9 अतिरिक्‍त कंपनियां कश्‍मीर घाटी में भेजी जाएंगी.