कर्नाटक: येदियुरप्पा के फ्लोर टेस्ट से पहले स्पीकर का फैसला- 14 बागी विधायक अयोग्य करार

बेंगलुरु। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के फ्लोर टेस्ट से पहले स्पीकर केआर रमेश कुमार ने बड़ा फैसला लिया है. स्पीकर ने इस्तीफा दिए 14 बागी विधायकों की सदस्यता रद्द कर दी. इनमें कांग्रेस के 11 और जनता दल (सेकुलर) के 3 विधायक शामिल हैं. इससे पहले स्पीकर ने 3 विधायकों को अयोग्य करार दिया था. यानी अब कुल इस्तीफा दिए 17 विधायक अयोग्य करार दिए जा चुके हैं.

14 विधायकों को अयोग्य करार देने के बाद स्पीकर रमेश कुमार ने कहा कि मैंने कोई चालाकी या ड्रामा नहीं किया, बल्कि सौम्य तरीके से फैसला लिया है.

ये हैं अयोग्य करार दिए गए विधायक

स्पीकर रमेश कुमार ने कांग्रेस के बैराठी बसवराज, मुनिरत्न, एसटी सोमशेखर, रोशन बेग, आनंद सिंह, एमटीबी नागराज, बीसी पाटिल, प्रताप गौड़ा पाटिल, डॉ. सुधाकर, शिवराम हेब्बार, श्रीमंत पाटिल को अयोग्य करार दिया. इसके अलावा जेडीएस के तीन बागी विधायकों के. गोपालैया, नारायण गौड़ा, ए एच विश्वनाथ को अयोग्य करार दिया गया.

104 का है जादुई आंकड़ा

कुल 17 विधायकों के अयोग्य घोषित होने के बाद कर्नाटक विधानसभा की संख्या 207 रह गई. इस हिसाब से बहुमत का आंकड़ा 104 विधायकों का रह गया. एक सदस्य मनोनीत है. कुल संख्या 105 विधायकों की है. बीजेपी के पास फिलहाल 105 विधायकों का समर्थन है, जैसा कि पिछले ट्रस्ट वोट में कुमारस्वामी के पक्ष में 99 और विपक्ष में 105 वोट पड़े थे.

फैसले के बाद स्पीकर रमेश कुमार ने कहा, ‘हम कहां जाते? स्थिति से निपटने के लिए मेरे ऊपर जिस तरीके से दबाव बनाया गया……स्पीकर होते हुए भी….इन सभी बातों ने मुझे घोर निराशा में धकेल दिया.’

ANI

@ANI

Speaker KR Ramesh Kumar: Where have we reached? The way I am being pressurized to deal with the situation(recent political developments in Karnataka) being a speaker… all these things have pushed me into a sea of depression.

View image on Twitter
40 people are talking about this

इससे पहले स्पीकर रमेश कुमार ने तीन विधायकों को अयोग्य करार दिया था. आज यानी 14 विधायकों के अयोग्य करार देने के बाद अब कुल 17 विधायक अयोग्य करार दिए जा चुके हैं. स्पीकर रमेश कुमार के इस फैसले के बाद विधानसभा में विधायकों की संख्या 207 बची है. यानी बहुमत के लिए 105 जादुई आंकड़ा होगा.

ANI

@ANI

Karnataka Speaker also disqualifies another rebel Congress MLA Shrimant Patil. Total of 14 MLAs including Roshan Baig, Anand Singh, H Vishwanath, ST Somashekhar disqualified https://twitter.com/ANI/status/1155362911382102016 

ANI

@ANI

Karnataka Speaker KR Ramesh Kumar: 13 MLAs(rebel Congress-JDS MLAs) have been disqualified.

View image on Twitter
60 people are talking about this

लंबे वक्त तक चले सियासी नाटक के बाद गुरुवार को कर्नाटक विधानसभा के स्पीकर ने तीन बागी विधायकों को अयोग्य करार दे दिया था. इन विधायकों में आर. शंकर, रमेश जरकिहोली और महेश कुमथल्ली के नाम हैं. बाकी 14 बागी विधायकों के इस्तीफे पर स्पीकर रमेश कुमार ने कहा था कि ‘मेरे पास कई शिकायतें हैं, मुझे फैसले के लिए और वक्त चाहिए. ऐसे मामले की स्टडी करनी पड़ती है.’ इसके बाद रविवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर स्पीकर रमेश कुमार ने बाकी 14 विधायकों को अयोग्य घोषित करने का फैसला किया.

ऐसे गिरी कुमारस्वामी सरकार

पिछले हफ्ते विश्वास प्रस्ताव पर चार दिनों की बहस के बाद एच. डी. कुमारस्वामी की सरकार गिर गई थी. विधानसभा में मंगलवार को मुख्यमंत्री कुमारस्वामी के नेतृत्व में कांग्रेस और जनता दल सेक्युलर (जद-एस) की गठबंधन सरकार विश्वास मत हासिल नहीं कर सकी. 225 सदस्यीय कर्नाटक विधानसभा में विश्वास मत के लिए 20 विधायक सदन में उपस्थित नहीं हुए थे.

विधानसभा अध्यक्ष के. आर. रमेश कुमार ने विश्वास मत के बाद सदन के सदस्यों को बताया कि मुख्यमंत्री एच. डी. कुमार स्वामी विश्वास मत हासिल नहीं कर सके. उन्होंने बताया कि विश्वास मत के पक्ष में 99 जबकि इसके खिलाफ 105 मत पड़े.

येदियुरप्पा बने मुख्यमंत्री

कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला ने शुक्रवार को राजभवन में बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष बी. एस. येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई. राज्यपाल ने येदियुरप्पा को राजभवन के विशाल लॉन में एक सादे समारोह में शाम करीब 6:30 बजे पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई.

75 वर्षीय येदियुरप्पा ने पुलिस अधिकारियों सहित राज्य के गणमान्य व्यक्तियों, विशेष आमंत्रित लोगों और शीर्ष अधिकारियों की उपस्थिति में भगवान के नाम पर कन्नड़ भाषा में शपथ ली. इस दौरान कड़ी सुरक्षा के बीच पार्टी के सैकड़ों नेता, विधायक, कैडर और येदियुरप्पा के परिवार के सदस्य भी मौजूद थे.