अक्षरधाम हमले के मुख्‍य आरोपी यासीन भट्ट का भाई भी था आतंकी, सेना ने किया था ढेर

नई दिल्‍ली। गुजरात के अक्षरधाम मंदिर में 2002 में हुए आतंकी हमले के पकड़े गए मुख्‍य आरोपी यासीन भट्ट से पूछताछ में कई अहम जानकारियां मिली हैं. पुलिस ने उससे पूछताछ के लिए कोर्ट से तीन दिन की रिमांड ली है. पहले दिन की पूछताछ में उसने खुलासा किया है कि उसका भाई भी आतंकी था. उसके भाई का नाम मुश्‍ताक था और उसने 2003 में अपना परिवार छोड़ दिया था.

पुलिस पूछताछ में उसने जानकारी दी है कि 2003 में वह परिवार छोड़ने के बाद आतंकवादी संगठन से जुड़ गया था. जानकारी मिली है कि मुश्‍ताक कश्‍मीर में आतंकी संगठन में बड़े ओहदे पर था. साल 2006 में उसका शव पाकिस्‍तान में मिला था. वह सेना के साथ एनकाउंटर में ढेर हुआ था.