कांग्रेस में प्रियंका-प्रियंका, कैप्टन अमरिंदर ने आदर्श उम्मीदवार कहा, शशि थरूर भी कर चुके हैं वकालत

नई दिल्ली। कांग्रेस अपने अध्यक्ष के नाम को लेकर अब तक अंतिम निर्णय पर नहीं पहुंची है. इस बीच पंजाब के मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कैप्टन अमरिंदर सिंह ने प्रियंका गांधी के नाम की पैरवी की है. सिंह ने कहा, ”पार्टी की बागडोर संभालने के लिए प्रियंका एक सही विकल्प होंगी, लेकिन यह सब कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) पर निर्भर करेगा, जो इसपर फैसला लेने के लिए अधिकृत है.”

कैप्टन से जब पूछा गया कि प्रियंका गांधी कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए उचित उम्मीदवार होंगी? तो उन्होंने कहा, ”निवर्तमान कांग्रेस अध्यक्ष (राहुल गांधी) उसपर फैसला लेंगे. मुझे यकीन है कि जहां तक प्रियंका जी का संबंध है, उन्हें पार्टी का पूर्ण समर्थन मिलेगा.”

 

ANI

@ANI

Punjab CM Capt A Singh on being asked if Priyanka Gandhi Vadra would be right choice for Congress President:Outgoing Congress Pres to take a call on that.I’m sure as far as Priyanka Ji is concerned there would be absolute support of the Party if our Congress President wishes that

Twitter पर छबि देखें
35 लोग इस बारे में बात कर रहे हैं
कैप्टन का कहना है कि कांग्रेस की कमान कोई युवा नेता ही संभाले. इससे पहले कांग्रेस नेता शशि थरूर ने रविवार को कहा कि उन्हें उम्मीद है कि पार्टी अध्यक्ष पद का चुनाव होने पर महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा इसमें अपनी किस्मत आजमाने को लेकर फैसला करेंगी. लेकिन साथ ही उन्होंने कहा कि यह गांधी परिवार का फैसला होगा कि प्रियंका इस पद के लिए चुनाव लड़ेंगी या नहीं.

थरूर ने कहा, ”उनके (प्रियंका गांधी) पास ‘स्वाभाविक करिश्मा’ है जो निश्चित तौर पर पार्टी कार्यकर्ताओं और मतदाताओं को प्रेरित और एकजुट कर सकता है. उनकी इसी खूबी के कारण कई लोग उनकी तुलना उनकी दादी और पूर्व पार्टी अध्यक्ष दिवंगत इंदिरा गांधी से करते हैं.”

लोकसभा चुनाव में पार्टी की हार की जिम्मेदारी लेते हुए राहुल गांधी ने मई के आखिरी सप्ताह में अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था. साथ ही उन्होंने कहा था कि पार्टी नए अध्यक्ष की तलाश करे, जो गांधी परिवार से बाहर का हो. राहुल गांधी के इस्तीफे के दो महीने बीत जाने के बावजूद कांग्रेस किसी अंतिम निर्णय पर नहीं पहुंच सकी है. हालांकि अब अमरिंदर सिंह और थरूर जैसे वरिष्ठ नेताओं ने प्रियंका गांधी के नाम की पैरवी की है.