जम्‍मू-कश्‍मीर: CRPF, अर्धसैनिक बलों की त्‍वरित तैनाती में IAF के C-17 का हो सकता है इस्‍तेमाल

श्रीनगर। कश्‍मीर घाटी में सीआरपीएफ और अर्धसैनिक बलों की संख्‍या बढ़ाने और त्‍वरित तैनाती के लिए सरकार सबसे भारी भरकम मालवाहक सी-17 (C-17) समेत भारतीय वायुसेना के विमानों की सेवाएं भी ले सकती है. इस बीच जम्‍मू-कश्‍मीर में सुरक्षाबलों की अतिरिक्‍त 100 कंपनियों की तैनाती मामले में गृह मंत्रालय ने शुक्रवार को बयान जारी किया है. गृह मंत्रालय ने अपने बयान में कहा है कि जम्‍मू-कश्‍मीर में करीब एक हफ्ते पहले सुरक्षाबलों की अतिरिक्‍त 100 कंपनियों की तैनाती का आदेश दिया गया है. उनकी तैनाती के स्‍थान पर उनके पहुंचने की प्रक्रिया जारी है. गृह मंत्रालय ने कहा कि यह नियमित प्रक्रिया है.

गृह मंत्रालय ने अपने बयान में कहा है कि आंतरिक सुरक्षा स्थिति, प्रशिक्षण संबंधी आवश्‍यकताएं, अर्धसैनिक बलों की तैनाती में बदलाव उनको आराम और स्‍वास्‍थ्‍य लाभ देने, केंद्रीय बलों को तैनात करना और उन्‍हें हटाना, ये नियमित प्रक्रियाएं हैं. मंत्रालय ने यह भी कहा है कि किसी तय स्‍थान पर अर्धसैनिक बलों की तैनाती और उनकी गतिविधि के संबंध में कभी भी सार्वजनिक तौर पर चर्चा नहीं की गई है.