आर्टिकल 370 हटने पर भावुक हुईं कश्मीरी सिंगर आभा हंजुरा, बोलीं- ‘घर जाने का रास्ता साफ’

आर्टिकल 370 हटने के बाद से जम्मू-कश्मीर की जड़ों से जुड़े कश्मीरी पंडितों के लिए भावुक पल रहा. न जाने कितने लोगों के दिल में अपने घरों में वापसी करने का ख्याल भर सुख से भर देने वाला रहा. कश्मीर की लोक गायिका आभा हंजुरा भी इस फैसले के आने के बाद भावुक हो गईं. आभा ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक पोस्ट करके अपने मन की बात फैंस तक पहुंचाई.

आभा ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा कि अब घर की ओर जाते हुए रास्ते साफ हो गए हैं और हो सकता है कि हम सब वापस अपने घरों में मिलें. अपने घरों से दूर कश्मीरियों की आंखों का ये सपना अब सच हो गया. इसके बाद भी आभा ने कई सारे ट्वीट पोस्ट करते हुए अपनी दिल की बात शेयर की.

 

Aabha Hanjura@AabhaHanjura

If you wanna be a part of the conversation please take the trouble of educating yourself on the messy grey that Jammu and Kashmir is ,it is not black and white.Human empathy with other human beings in sensitive times is of utmost importance, let us remember that please.

Aabha Hanjura@AabhaHanjura

May the road towards home be clearer for us and may we soon reunite with our homes ,thats a dream in the eyes of all kashmiris away from their homes.

See Aabha Hanjura’s other Tweets

बता दें कि कश्मीर में साल 1990 में हथियारबंद आंदोलन शुरू होने के बाद से लाखों कश्मीरी पंडित अपने घरों से बेघर हो गए थे. उस वक्त हुए नरसंहार में सैकड़ों पंडितों का कत्लेआम हुआ था. कश्मीर में हिंदुओं पर कहर टूटने का सिलसिला 1989 जिहाद के लिए गठित जमात-ए-इस्लामी ने शुरू किया था, जिसने कश्मीर में इस्लामिक ड्रेस कोड लागू कर दिया. जमात-ए-इस्लामी ने नारा दिया हम सब एक, तुम भागो या मरो. इसके बाद लाखों कश्मीरी पंडितों को अपनी जमीन-जायजाद छोड़कर रिफ्यूजी कैंपों में शरण लेने को मजबूर होना पड़ा था.