उत्तराखंड में कुदरत का कहर, 19 अगस्त तक भारी बारिश का अलर्ट

हरिद्वार। देश के विभिन्न हिस्सों में मॉनसून ने तबाही मचा रखी है. उत्तराखंड के पहाड़ों से लेकर मैदान तक मॉनसून का कहर जारी है. पहाड़ों पर भारी बारिश से भूस्खलन की घटनाओं में लगातार इजाफा हो रहा है और उस पर मौसम विभाग के अलर्ट ने नींद उड़ा दी है. मौसम विभाग ने 13 से लेकर 19 अगस्त तक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है.

देहरादून शहर के करीब या बीच से बहने वाली सभी नदियों और नालों के पास रह रहे लोगों को पुलिस हटाने में लगी हुई है. ताकि किसी भी अनहोनी से बचा जा सके. ऐसे में लाउड स्पीकर के सहारे बार-बार ये दोहराया जा रहा है कि तुरंत अपने आशियाने को छोड़ दें.

हाल के दिनों में पूरे प्रदेश में 14 विभिन्न जगहों पर बादल फटने की घटनाएं हो चुकी हैं, जिनमें अभी तक 34 मौतें हो चुकी हैं. सबसे ज्यादा मौत का आंकड़ा चमोली जिले का है, जहां अभी तक 15 लोग काल के गाल में असमय ही समा चुके हैं. उसके बाद भी मौसम विभाग की चेतावनी ने वहां के लोगों को चिंता में डाल दिया है.

19 अगस्त तक मौसम विभाग के निदेशक बिक्रम सिंह ने भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है. साथ ही प्रदेश के निचले मैदानी जिलों में बाढ़ के खतरे का भी अलर्ट जारी हुआ है. ऐसे में हरिद्वार रुड़की जैसे लो लाइन इलाकों में बेहद सतर्कता बरतने के निर्देश भी जारी किए हैं.