रक्षाबंधन के दिन चचेरे भाई ने बनाया हवस का शिकार, पीड़िता ने लगाई फांसी

कानपूर/लखनऊ। उत्तर प्रदेश के कानपुर से रिश्तों को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है, जहां रक्षाबंधन के दिन चचेरे भाई ने 16 साल की नाबालिग बहन के साथ रेप किया. जब इस घटना के बारे में लड़की ने अपने चाचा को बताया तो पीड़िता को ही दोषी ठहराया गया. इससे हताश होकर नाबालिग ने मौत को गले लगा लिया. यह मामला कानपुर जिले के बिठूर इलाके का है.

फिलहाल पुलिस ने लड़की के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर आरोपी के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है. पुलिस का कहना है कि अभी तक इस मामले में कोई लिखित शिकायत नहीं मिली है. हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद मामले की खुलासा हो पाएगा.

इससे पहले कानपुर में ही एक सामूहिक दुष्कर्म के बाद 13 वर्षीय किशोरी ने कथित तौर पर आत्महत्या कर ली. किशोरी के साथ तीन पड़ोसियों ने कथित तौर पर 13 जुलाई को उसे अगवा करने के बाद दुष्कर्म किया था. जिसके बाद शनिवार को किशोरी अपने कमरे में फंदे से लटकती पाई गई. शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. पीड़िता के परिवारवालों का कहना है कि लड़की आरोपियों की गिरफ्तारी न होने से परेशान थी.