देश में आर्थिक मंदी का खतरा, मोदी सरकार इसे गंभीरता से ले, मायावती ने दी सलाह

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने कहा कि देश में आर्थिक मंदी का खतरा है और व्यापारी वर्ग परेशान है. उन्होंने केंद्र सरकार को इसे गंभीरता से लेने की सलाह दी है. बता दें कि बता दें कि बसपा मुखिया मायावती लगातार ट्विटर पर सक्रिय रहती हैं. वह समय-समय पर केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधती रहती हैं.

मायावती ने शनिवार को ट्विटर के माध्यम से लिखा, ‘देश में व्यापक बेरोजगारी, गरीबी, महंगाई, अशिक्षा, स्वास्थ्य, तनाव, हिंसा आदि की चिन्ताओं के बीच अब आर्थिक मन्दी का खतरा है, जिससे देश पीड़ित है. व्यापारी वर्ग भी काफी दुखी व परेशान हैं. छटनी आदि के उपायों के बाद वे आत्महत्या तक को मजबूर हो रहे हैं. केंद्र इसे पूरी गंभीरता से लें.’

गौरतलब है कि अमेरिका और चीन के बीच चल रहे ट्रेड वॉर की वजह से दुनियाभर की अर्थव्यवस्थाओं के वैश्विक मंदी की चपेट में आने की आशंका बढ़ गई है. दुनियाभर की अर्थव्यवस्थाओं ने इसके संकेत भी दिए हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अमेरिकी इनवेस्टमेंट बैंकिंग कंपनी मॉर्गन स्टेनली ने अगले 9 महीने में मंदी आने की बात कही है. हालांकि रिपोर्ट के मुताबिक भारत के ऊपर इस मंदी का ज्यादा असर नहीं पड़ेगा. हालांकि मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मॉर्गन स्टेनली ने भारत सरकार को सतर्क रहकर मंदी पर नजर रखते हुए जरूरी कदम उठाने की सलाह दी है.

अमेरिकी इनवेस्टमेंट बैंकिंग कंपनी मॉर्गन स्टेनली का कहना है कि अगर अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड वॉर बढ़ता है. इसके अलावा भविष्य में अमेरिका द्वारा चीन के सामानों पर ड्यूटी में और बढ़ोतरी की जाती है. इन हालातों में तीन तिमाही में मंदी आने का खतरा है. साथ ही मॉर्गन स्टेनली ने भारत में सभी सेक्टर में मंदी की बात से इनकार किया है.