स्ट्रगल के दिनों को याद कर इमोशनल हुए जॉन अब्राहम, बोले- ‘लोग कहते थे मैं लायक नहीं’

मॉडलिंग से करियर की शुरुआत करने वाले बॉलीवुड स्टार जॉन अब्राहम इन दिनों अपनी फिल्म ‘बाटला हाउस’ के चलते सुर्खियों में हैं. हर कोई फिल्म में उनकी दमदार अदाकारी की तारीफ कर रहा है. ऐसे में जॉन अपने स्ट्रगल के दिनों को याद करके इमोशनल हो गए हैं.

अभिनेता जॉन अब्राहम का कहना है कि अब तक की सबसे बुरी आलोचना का सामना उन्हें तब करना पड़ा जब उन्होंने बॉलीवुड में एंट्री ली थी. लोगों का कहना था कि वह इस इंडस्ट्री में बने रहने के लायक नहीं हैं.

BOX OFFICE पर पहले दिन ही चला जॉन अब्राहम का जादू, 'बाटला हाउस' ने कमाए इतने करोड़

मॉडलिंग में सफल होने के बाद जॉन ने साल 2003 में ‘जिस्म’ के साथ बॉलीवुड में डेब्यू किया और तब से अब तक ‘पाप’, ‘धूम’, ‘गरम मसाला’, ‘बाबुल’, ‘दोस्ताना’, ‘न्यूयॉर्क’, ‘हाउसफुल 2’, ‘मद्रास कैफे’, ‘ढिसूम’, ‘परमाणु : द स्टोरी ऑफ पोखरन’, ‘रोमियो अकबर वाल्टर’ और ‘बाटला हाउस’ जैसी कई फिल्मों में काम कर चुके हैं. इसके अलावा जॉन फिल्ममेकिंग बिजनेस में एक निर्माता के तौर पर भी कार्यरत हैं.

जॉन अब्राहम ने लगाया फिल्म इंडस्ट्री पर गंभीर आरोप! बोले- 'धर्मनिरपेक्ष नहीं है'

बता दें कि निखिल आडवाणी द्वारा निर्देशित ‘बाटला हाउस’ में जॉन के साथ मृणाल ठाकुर, रवि किशन और राजेश शर्मा भी मुख्य किरदारों में हैं. जॉन ने चैट शो ‘बाय इंवाइट ओनली’ में अपने करियर के बारे में यह बात कही.