उत्‍तराखंड-हिमाचल में भारी बारिश, 11 मौत, कई लापता, दिल्‍ली की बढ़ेगी मुसीबत

नई दिल्‍ली। हिमाचल प्रदेश के कई हिस्‍सों और उत्‍तराखंड में हो रही मूसलधार बारिश ने जनजीवन अस्‍तव्‍यस्‍त कर दिया है. इन दोनों राज्‍यों में अब तक बारिश के कारण 11 लोगों की मौत हो चुकी है. उत्‍तराखंड में बादल फटने से कई लोग लापता हैं. हिमाचल में अब तक 11 लोगों की मौत हुई है. सबसे ज्यादा शिमला में 7 लोगों की मौत हुई है.

उत्‍तराखंड में बादल फटा है. उत्तरकाशी प्रशासन के मुताबिक भारी बारिश के कारण अभी तक 5 लोग लापता हैं. एसडीआरएफ ने मकोड़ी में एक महिला के मलबे में दबे होने की पुष्टि की है.

हथनीकुंड बैराज से छोड़ा 7 लाख 60 हज़ार क्यूसिक पानी, यमुना का जलस्‍तर बढ़ेगा
यमुनानगर हथनीकुंड बैराज से 5 लाख 93 हज़ार क्यूसिक पानी छोड़ा गया. इधर पहाड़ों पर हो रही बरसात के चलते यमुना का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है. प्रशासन ने यमुना के साथ लगते इलाकों को अलर्ट किया है. सिंचाई विभाग ने हाईफ्लड घोषित कर दिल्ली सिंचाई विभाग को सूचित किया है.

ANI

@ANI

Haryana: Water-level in Yamuna river rises after water is released from Hathni Kund Barrage in Yamuna Nagar.

View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter
23 people are talking about this
दिल्ली मे 72 घंटे के बाद पानी दस्तक देगा. दिल्ली के निचले इलाक़े पानी की चपेट में आ सकते हैं.  हिमाचल में कुल्‍लू जिला में खराब मौसम को देखते हुए  प्रशासन ने जिला कुल्लू के सभी सरकारी व गैर सरकारी शिक्षण संस्थानों को बंद करने के आदेश दिए हैं. ज़िला कुल्लू में अभी तक भारी बारिश के चलते 16 घर पूरी तरह से नष्ट हो चुके है ,जबकि 2 लोगों की मौत हुई है  और अभी तक 60 सड़के बंद हैं.

हिमाचल में भारी बारिश का कहर
हिमाचल में अब तक 11 लोगों की मौतें हुईं. सबसे ज्यादा शिमला में 7 लोगों की मौत हुई. सीएम जयराम ठाकुर ने इन मौतों पर गहरा दुःख जताया. हिमाचल में अब तक कुल 490 करोड़ का नुकसान हुआ है. सीएम जयराम ठाकुर ने कहा, राहत और बचाव कार्य युद्ध स्तर पर चला है. कुछ जगह मकान ध्वस्त, जलस्तर भी बढ़ा है. दो दिनों में ज्यादा नुकसान हुआ है. लाहौल स्पीति में बर्फवारी और बाकी स्थानों पर भारी बारिश से स्थिति और खराब हुई है.