BREAKING NEWS

अशोक कटारिया, विद्यासागर सोनकर,  विजय बहादुर पाठक, बुक्कल नवाब, उदयभान सिंह सहित एक दर्जन नए चहरे बन सकते हैं मंत्री

लखनऊ। बुधवार को कैबिनेट विस्तार होने से पहले योगी सरकार में वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए योगी मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया है, मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार राजेश अग्रवाल ने दो दिन पहले ही सीएम योगी को अपना इस्तीफा सौंप दिया था, कहा जा रहा है कि स्वास्थ्य कारणों और बढती उम्र को देखते हुए उन्होने इस्तीफा दिया है, हालांकि अभी तक उनके इस्तीफे पर कोई फैसला हुआ है या नहीं, इसके बारे में कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है।

बुधवार को कैबिनेट विस्तार 
योगी सरकार के मंत्रिमंडल का विस्तार बुधवार को होना है, 21 अगस्त को राजभवन में होने वाले नये मंत्रियों की सूची राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को पहले ही भेजी जा चुकी है, कहा जा रहा है कि पश्चिमी यूपी से योगी सरकार ज्यादा प्रतिनिधित्व मिल सकता है, साथ ही पूर्वांचल के कुछ चेहरों को प्रमोशन दिया जा सकता है, तो नॉन परफॉर्मर मंत्रियों की छुट्टी भी तय है, साथ ही कुछ मंत्रियों को संगठन में भेजा जा सकता है, स्वतंत्र देव सिंह को बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बनाकर पहले ही भेजा जा चुका है।

नये चेहरे पर दांव
सूत्रों के मुताबिक करीब दर्जन भर नये चेहरों को योगी सरकार में शामिल किया जा सकता है, अशोक कटारिया (एमएलसी), विद्यासागर सोनकर (एमएलसी), विजय बहादुर पाठक (एमएलसी), बुक्कल नवाब (एमएलसी), उदयभान सिंह (फतेहपुर सीकरी), नीलिमा कटियार (कानपुर), दल बहादुर कोरी (रायबरेली), आशीष पटेल (अपना दल, अनुप्रिया पटेल के पति और एमएलसी) को मंत्री पद दिये जाने की चर्चा है।

इनका प्रमोशन
कहा जा रहा है कि करीब 4 स्वतंत्र प्रभार वाले मंत्रियों को प्रमोट कर कैबिनेट रैंक दिया जा सकता है, जिनमें महेन्द्र सिंह, सुरेश राणा, अनिल राजभर और उपेन्द्र तिवारी का नाम चल रहा है। आपको बता दें कि पहले 19 अगस्त को योगी सरकार का विस्तार होना था, लेकिन अचानक इसे टाल दिया गया, कहा जा रहा है कि कुछ नामों पर असमहति की वजह से ऐसा फैसला लिया गया।