सिंधु ने मां के जन्‍मदिन पर गोल्‍ड जीतकर कहा-हैप्‍पी बर्थडे मॉम, पीएम मोदी ने भी दी बधाई

ओलम्पिक रजत पदक विजेता पी.वी. सिंधु ने रविवार को यहां बीडब्ल्यूएफ बैडमिंटन विश्व चैम्पियनशिप-2019 के फाइनल में दुनिया की चौथे नंबर की खिलाड़ी जापान की नोजोमी ओकुहारा को हराकर चैम्पियनशिप में पहली बार स्वर्ण पदक जीत लिया. इस गोल्‍ड मैडल को जीतने वाली पीवी सिंधु भारत की पहली महली खिलाड़ी हैं. उन्‍होंने अपनी जीत का मां को समर्प‍ित किया. ये जीत इसलिए भी खास है, क्‍योंकि 25 अगस्‍त को ही उनकी मां विजया जन्‍मदिन भी है. उन्‍होंने जीत के बाद गोल्‍ड उन्‍हें समर्पित करते हुए कहा- हैप्‍पी बर्थडे मॉम.

इधर हैदराबाद में सिंधु के घर पर जश्‍न का माहौल है. उनकी मां पी विजया ने कहा, हम सब बहुत खुश हैं. हम सभी को इस गोल्‍ड मैडल का इंतजार था. इसके लिए सिंधु ने बहुत मेहनत की थी. सिंधु की इस जीत को उनके घरवालों ने जमकर सेलिब्रेट किया.

पीवी सिंधु की इस जीत पर प्रधानमंत्री मोदी ने भी उन्‍हें बधाई दी. पीएम मोदी ने ट्व‍िटर पर लिखा, आपने एक बार फि‍र से देश को गौरवान्‍व‍ित क‍िया.

Narendra Modi

@narendramodi

The stupendously talented @Pvsindhu1 makes India proud again!

Congratulations to her for winning the Gold at the BWF World Championships. The passion and dedication with which she’s pursued badminton is inspiring.

PV Sindhu’s success will inspire generations of players.

7,106 people are talking about this
सिंधु के घर में सभी खिलाड़ी

पीवी सिंधु का पूरा परिवार ही खेलों से जुड़ा हुआ है. उनके पिता और मां भी खिलाड़ी रह चुके हैं. सिंधु के पीवी रमना और मां पी विजया वॉलीबॉल प्‍लेयर रह चुके हैं. उनके पिता तो 1986 एशियन गेम्‍स में ब्रॉन्‍ज मेडल जीतने वाली टीम का हिस्‍सा भी रह चुके हैं. सिंधु की बहन हैंडबॉल प्‍लेयर है.

ओलम्पिक रजत पदक विजेता पी.वी. सिंधु ने रविवार को यहां बीडब्ल्यूएफ बैडमिंटन विश्व चैम्पियनशिप-2019 के फाइनल में दुनिया की चौथे नंबर की खिलाड़ी जापान की नोजोमी ओकुहारा को हराकर चैम्पियनशिप में पहली बार स्वर्ण पदक जीत लिया.

पहले गेम से ही सिंधु ने बनाई बढ़त
बता दें कि स्विटजरलैंड में सिंधु ने वर्ल्‍ड रैंकिंग में पांचवें पायदान पर काबिज सिंधु ने ओकुहारा को सीधे गेमों में 21-7, 21-7 से पराजित किया. यह मुकाबला 37 मिनट तक चला. इस जीत के साथ ही सिंधु ने ओकुहारा से खिलाफ अपना करियर रिकॉर्ड 9-7 का कर लिया है. वर्ष 2017 और 2018 में रजत तथा 2013 व 2014 में कांस्य पदक जीत चुकीं सिंधु ने पहले गेम में अच्छी शुरुआत की और 5-1 की बढ़त बना ली. भारतीय खिलाड़ी इसके बाद 12-2 से आगे हो गईं.