INDvsWI, 1st Test: अंजिक्य रहाणे की शानदार वापसी, दो साल बाद टेस्ट क्रिकेट में ठोका 10वां शतक

भारत ने एंटिगा के सर विवियन रिचर्डस स्टेडियम में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के चौथे दिन रविवार को अपनी दूसरी पारी में सात विकेट पर 343 रन बनाकर पारी घोषित कर दी और वेस्टइंडीज के सामने जीत के लिए 419 रनों का लक्ष्य रख दिया. भारत ने पहली पारी में 297 रन का स्कोर बनाया था और उसने वेस्टइंडीज को पहली पारी में 222 रन पर ऑलआउट कर दिया था. भारत को इस तरह पहली पारी में 75 रन की बढ़त हासिल थी. इस पारी में उपकप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane)ने 102 रन बनाकर अपनी पुरानी फॉर्म में दमदार वापसी की.

इससे पहले, 3 अगस्त 2017 में श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो टेस्ट मैच में रहाणे ने 132 रन की पारी खेली थी. हालांकि, यह बल्लेबाज साल 2018 में खेले गए टेस्ट मुकाबलों में एक भी शतक नहीं लगा पाए थे.

ICC

@ICC

Century for Ajinkya Rahane!

His first Test hundred in over two years 👏 👏

View image on Twitter
483 people are talking about this
10 शतक बना चुके

31 साल के रहाणे अब तक 57 इंटरनेशनल टेस्ट मैच खेल चुके हैं. इन मैचों की 97 पारियों में उन्होंने 41.72 की औसत से 3671 रन बनाए हैं, जिसमें 18 अर्धशतक और 10 शतक शामिल हैं.

BCCI

@BCCI

That will be Lunch on Day 4 – A brilliant effort from Rahane (90*) & Vihari(57*) as they put up a century stand – 287/4, Lead by 362 runs

View image on Twitter
160 people are talking about this

रोहित की वापसी पर संशय
रहाणे के शतक के अलावा सलामी बल्लेबाज हनुमा विहारी ने  दूसरी पारी में 93 रन की पारी खेलकर टेस्ट क्रिकेट में अपनी शानदार उपस्थिति दर्ज करा दी. ऐसे में अब हिटमैन यानी रोहित शर्मा की दूसर टेस्ट मैच में खेलने पर संशय बरकरार हो गया है. रोहित 27 इंटरनेशनल टेस्ट क्रिकेट मैचों की 47 पारियों में अब तक 39.62 की औसत से 1585 रन बना चुके हैं, जिसमें 3 शतक और 10 अर्धशतक शामिल हैं.

इनको मिला है मौका
आपको बता दें कि भारतीय टीम ने लोकेश राहुल और मयंक अग्रवाल को पहले टेस्ट की प्लेइंग इलेवन में मौका दिया है. रिद्धिमान साहा, रविचंद्रन अश्विन, रोहित शर्मा, कुलदीप यादव और उमेश यादव इस मैच में नहीं खेल रहे हैं.

रोहित को टेस्ट में सलामी बल्लेबाज के तौर पर खेलना चाहिए: गांगुली
भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली का मानना है कि रोहित शर्मा को वनडे की तरह टेस्ट क्रिकेट में सलामी बल्लेबाज की भूमिका निभानी चाहिए. रोहित भारत की टेस्ट टीम में अजिंक्य रहाणे के साथ मध्यक्रम में बल्लेबाजी करते हैं और गांगुली का कहना है कि यह बहुत जरूरी है कि रोहित इंग्लैंड एंड वेल्स में हुए विश्व कप के अपने शानदार फॉर्म को जारी रखें.

गांगुली ने लिखा, “भारत को एक बहुत महत्वपूर्ण निर्णय लेना है कि वे रोहित को खिलाना चाहते हैं या रहाणे को. यह स्थिति दक्षिण अफ्रीका जैसी ही है. मेरा यह सुझाव होगा कि रोहित को विश्व कप के शानदार प्रदर्शन को जारी रखने का मौका दिया जाए और उसे सलामी बल्लेबाज की भूमिका दी जाए, जबकि रहाणे मध्यक्रम को मजबूती प्रदान करने का काम जारी रखेंगे.”