SL vs NZ: टी20 सीरीज में दूसरी हार के बाद बोले मलिंगा, हार मायने नहीं रखती जब तक…

न्य़ूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज बराबरी पर छूटने के बाद लसिथ मलिंगा (Lasith Malinga) की कप्तानी में श्रीलंका टीम को टी20 सीरीज में वापसी की उम्मीद थी. पहले टी20 मैच में हार तगड़ी नहीं थी कि श्रीलंका की टीम की वापसी मुश्किल लगे, लेकिन दूसरे टी20 मैच में भी टीम न्यूजीलैंड को पिछले मैच से ज्यादा लक्ष्य न दे सकी और बेहतर गेंदबाजी के बावजूद इसमें भी उसे हार का सामना करना पड़ा.  सीरीज में हार पर कप्तान मलिंगा ने हार को चिंताजनक नहीं बताया.

मलिंगा ने मैच खत्म होने के बाद कहा कि हार तब तक मायने नहीं रखती जब तक टीम साहस दिखाना बंद न कर दे. मलिंगा ने कहा, “ हमने अपने सर्वश्रेष्ठ प्रयास किया. सभी युवाओं ने अपना पूरा योगदान दिया और हमने ठीक ठाक स्कोर लगाया था. हमने फिर भी कड़ी टक्कर दी लेकिन नाजुक मौकों पर हमें किस्मत का साथ नहीं मिला. जिस तरह का क्रिकेट  हमने खेला उससे हम खुश हैं. और मैं टीम को इसी तरह से आगे बढ़ते देखना चाहता हूं.”

ICC

@ICC

“Glad with the brand of cricket we’ve played and this is how I want the team to play going forward.”

Lasith Malinga is backing his young team despite their T20I series loss against New Zealand ⬇️ https://cards.twitter.com/cards/2xpgqs/7zfbq 

‘All the youngsters gave it their all’ – Malinga

www.icc-cricket.com

25 people are talking about this

मलिंगा ने कहा, “हम अपने युवा खिलाड़ियों को अपना स्वाभाविक खेल खेलने की आजादी देना चाहते थे, वे टी20 खेल कैसे खेला जाए यह सीख रहे हैं और मैं चाहता हूं कि युवा खिलाड़ी दिखाएं कि वे इंटरनेशनल क्रिकेट के लिए बने हैं. हार मायने नहीं रखती जब तक कि टीम साहस दिखा रही है. जाहिर है हम (आखिरी मैच) जीतना चाहते हैं. लेकिन हम अपनी बेंच स्ट्रेंथ को भी जांचना चाहते हैं.”

श्रीलंका ने मंगलवार को दूसरे टी20 में न्यूजीलैंड को जीत के लिए 162 रन का लक्ष्य दिया था. इस मैच में न्यूजीलैंड की टीम ने चार विकेट से जीत दर्ज की थी. इस जीत से न्यूजीलैंड ने तीन मैचों की सीरीज में 2-0 से अजेय बढ़त हासिल कर ली है.  पहले मैच में भी श्रीलंका टीम ने पहले बल्लेबाजी की थी और न्यूजीलैंड को 175 रन का टारगेट दिया था जिसे मेहमान टीम ने केवल 5 विकेट खोकर ही हासिल कर लिया था. सीरीज का आखिरी टी20 6 सितंबर को होगा.