PAK को ट्रंप ने दिया झटका, इमरान के सामने कहा- भारत से रिश्ते अच्छे

भारत-पाकिस्तान दोनों पक्ष राजी तो मध्यस्थता के लिए तैयार

ट्रंप ने अनुच्छेद 370 पर मोदी के भाषण को आक्रामक बताया

नई दिल्ली। न्यूयॉर्क में सोमवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच मुलाकात हुई. ट्रंप से मुलाकात के दौरान इमरान खान ने कश्मीर का मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर भारत बातचीत को तैयार नहीं है, जो एक बड़े संकट की शुरुआत है. हम मामले को सुलझाने के लिए अमेरिका का साथ चाहते हैं. वहीं, ट्रंप ने कहा कि भारत से मेरे अच्छे संबंध हैं और मुझे लगता है भारत और पाकिस्तान साथ आएंगे.

इस मुलाकात के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि कश्मीर और अनुच्छेद 370 पर मोदी का भाषण बहुत आक्रामक था. वहां मौजूद लोग इसे अच्छे से सुन रहे थे. ट्रंप ने इमरान को आईना दिखाते हुए कहा कि मुझे पाकिस्तान पर भरोसा है, लेकिन मेरे सामने जो लोग हैं वे पाकिस्तान पर यकीन नहीं करते.

93 people are talking about this
हालांकि, ट्रंप ने उम्मीद जाहिर की कि भारत और पाकिस्तान साथ आ सकते हैं. उन्होंने एक बार अपना पुराना बयान दोहराया कि अगर दोनों पक्ष राजी हों तो वो भारत-पाकिस्तान के बीच मध्यस्थता करने को तैयार हैं.

पाक प्रधानमंत्री इमरान खान से मुलाकात के दौरान एक पाकिस्तानी पत्रकार ने कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन का सवाल किया तो इस पर भड़कते हुए ट्रंप ने इमरान से कहा कि ऐसे रिपोर्टर आप कहां से ढूंढ़ लेते हैं.

इधर, पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि जलवायु परिवर्तन पर भारत गंभीर प्रयास कर रहा है. आपको यह बताते हुए खुशी हो रही है कि कल हम यूएन मुख्यालय की छत पर स्थापित सौर पैनलों का उद्घाटन करने जा रहे हैं. इसे भारत ने स्थापित किया है. अब बात करने का समय खत्म हो चुका है. दुनिया को अब करके दिखाना होगा.