देश की पहली प्राइवेट ट्रेन शुरू, लग्जरी सुविधाएं, लेट हुई तो यात्रियों को मिलेंगे पैसे

लखनऊ। देश की पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस पटरी पर दौड़ने लगी है. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ में ट्रेन को हरी झंडी दिखाई. इस दौरान सीएम योगी ने दूसरे शहरों को भी इस तरह की पहल से जोड़ने की बात कही.

सीएम योगी ने कहा, ‘यह देश की पहली कॉरपोरेट ट्रेन है. मैं इसमें यात्रा करने वाले यात्रियों को बधाई देता हूं. आशा करता हूं कि अन्य शहरों को भी जोड़ने के लिए इस तरह की पहल की जाएगी.’ तेजस एक्सप्रेस निजी कंपनी के जरिए संचालित पहली ट्रेन है.

ANI UP

@ANINewsUP

Lucknow: Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath flags off Lucknow-Delhi Tejas Express; says,”It is the first corporate train of the country. I congratulate the first batch of passengers travelling in it & hope such initiatives are taken to connect other cities also”

View image on TwitterView image on Twitter
20 people are talking about this
कैसे मिलेंगे यात्रियों को पैसे?

रेल यात्रियों को आकर्षित करने के लिए बीमा के साथ-साथ ट्रेन अगर देर होती है तो इसकी भरपाई के लिए मुआवजा देने का प्रावधान किया गया है. ट्रेन में अगर 1 घंटे की देरी होती है तो यात्री को 100 रुपये का मुआवजा दिया जाएगा. वहीं 2 घंटे से ज्यादा की देरी होती है तो प्रत्येक यात्री को 250 रुपये दिए जाएंगे . तेजस एक्सप्रेस लखनऊ से दिल्ली के बीच चलेगी.

रेलवे बोर्ड अन्य मार्गों पर भी ऐसी ट्रेन चलाने पर विचार कर रहा है. तेजस ट्रेन की निगरानी इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन (आईआरसीटीसी) के जिम्मे है. तेजस में यात्रियों को प्रीमियम सेवाएं और सुविधाएं दी जाएंगी.

PIB in Odisha

@PIBBhubaneswar

Uttar Pradesh CM @myogiadityanath flags off the much awaited first corporate train of the country, Lucknow-Delhi Express today at the Lucknow Junction Railway Station. will have all modern facilities for the passengers.

View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter
See PIB in Odisha’s other Tweets

क्या है ट्रेन की खासियतें?

ट्रेन में विमान की तरह व्यक्तिगत एलसीडी एंटरटेनमेंट-कम-इंफोर्मेशन स्क्रीन, ऑन बोर्ड वाई-फाई सेवा, आरामदायक सीटें, मोबाइल चार्जिंग, व्यक्तिगत रीडिंग लाइट्स, मोड्यूलर बायो-टॉयलेट और सेंसर टेप फिटिंग की सुविधाएं होंगी.

लखनऊ-दिल्ली मार्ग पर फिलहाल स्वर्ण शताब्दी समेत 53 ट्रेनें संचालित हैं. प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हालांकि राजधानी की सेवा नहीं है. लखनऊ-दिल्ली तेजस एक्सप्रेस के बाद जल्द ही अहमदाबाद से मुंबई के लिए चलने वाली तेजस एक्सप्रेस शुरू की जा सकती है.

तेजस एक्सप्रेस में कुल 758 यात्री सफर कर सकेंगे. इस ट्रेन में एक एक्जिक्यूटिव क्लास वातानुकूलित चेयर कार होंगी, जिसमें 56 सीटें होंगी और 9 वातानुकूलित चेयर कार होंगी, जिनमें प्रत्येक में 78 सीटें होंगी.

क्या है ट्रेन की टाइमिंग?

यह ट्रेन नई दिल्ली से शाम 3.35 बजे खुलकर उसी दिन 10.05 बजे रात को लखनऊ पहुंचेगी. ये ट्रेन हफ्ते में छह दिन चलाई जाएगी. 82502/82501 तेजस एक्सप्रेस मंगलवार को छोड़कर हफ्ते के छह दिन नई दिल्ली और लखनऊ के बीच फेरे लगाएगी. इस ट्रेन की शुरुआत 4 अक्टूबर को हो रही है.