दिवाली से पहले RBI का एक और तोहफा, रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट की कटौती

नई दिल्ली। दिवाली से पहले रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने होम लोन और कार लोन लेने वाले ग्राहकों को एक और तोहफा दिया है. आरबीआई की मॉनिटरी पॉलिसी (MPC) की बैठक में लगातार पांचवी बार रेपो रेट कटौती का ऐलान किया गया. शुक्रवार को रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट्स की कटौती की गई है. रिवर्स रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट्स की कटौती की गई है. अब रेपो रेट घटकर 5.15 प्रतिशत और रिवर्स रेपो रेट 4.90 प्रतिशत हो गया है.

अगस्त में 35 प्वाइंट की कटौती
इससे पहले 7 अगस्त को आरबीआई ने रेपो रेट में 35 बेसिस प्वाइंट की कटौती कर इसे 5.40 प्रतिशत और रिवर्स रेपो रेट को 5.15 प्रतिशत कर दिया था. यह लगातार पांचवा मौका है जब आरबीआई की तरफ से रेपो रेट कम करने का ऐलान किया गया है. साल 2019 में अब तक रेपो रेट में 1.35 फीसदी की कटौती की जा चुकी है. रेपो रेट में कटौती होने के बाद बैंकों को अब सस्ता लोन मिलेगा जिसकी वजह से वह ग्राहकों को सस्ता लोन दे पाएंगे. साथ ही EMI में भी कटौती होगी.

तीन दिन तक चली बैठक में फैसला
आपको बता दें आरबीआई की मौद्रिक नीति समिति (MPC) की तीन दिन की बैठक चल रही है. बैठक के अंतिम दिन 4 अक्टूबर (शुक्रवार) को इसके नतीजों की घोषणा की गई. इससे पहले रिजर्व बैंक ने देश के सभी बैंकों से 1 अक्टूबर से अपने सभी कर्ज को रेपो रेट से जोड़ने के लिए कहा है. इससे रिजर्व बैंक द्वारा ब्याज दर में कटौती का लाभ सीधे तौर पर बैंक से किसी भी तरह का लोन लेने वाले को मिलेगा.

आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास (Shaktikanta Das) पहले ही संकेत दे चुके हैं कि मुद्रास्फीति के अनुकूल दायरे में रहने से नीतिगत दर में नरमी की और गुंजाइश बनती है. एमपीसी की 6 सदस्यीय समिति की तीन दिवसीय बैठक 1 अक्टूबर को शुरू हुई थी. 2 अक्टूबर को गांधी जयंती की छुट्टी होने के चलते यह बैठक नहीं हो पाई थी.