आजम बोले- अपने आपको बेच नहीं सके, इसलिए हुए मुर्गी-बकरी चोरी के केस

रामपुर विधानसभा सीट पर 21 अक्टूबर को उपचुनाव

आजम खान पत्नी के लिए मांग रहे हैं वोट

लखनऊ/रामपुर। उत्तर प्रदेश की रामपुर विधानसभा सीट पर उपचुनाव होना है. इस सीट से सांसद आजम खान की पत्नी तंजीन फातिमा समाजवादी पार्टी से मैदान में हैं. पत्नी को जीताने के लिए आजम खान चुनावी रैलियों में भावुक अपील कर रहे हैं. साथ ही रामपुर में एक चुनावी रैली में आजम खान ने कहा कि वो खुद को बेच नहीं सके, इसलिए उन पर कई केस हुए. आजम अपने उपर दर्ज मुकदमों और अपने परिवार वालों के नमाज और रोजा का वास्ता देकर मुस्लिमों का ध्रुवीकरण करने में जुटे हैं.

एक रैली को संबोधित करते हुए आजम खान ने कहा ‘हमारी मां पर मुकदमा कायम है. हमारी 75-77 साल की बहन सात वक्त की नमाज पढ़ती हैं. बेवा जो नमाज की जानमाज छोड़कर खाने की तरफ जा रही थी, उसका हाथ पकड़कर घसीटते हुए थाने ले गए. मेरा बुजुर्ग भाई जो पांचों वक्त मोहल्ले की मस्जिद में तनहा नमाज पढ़ने जाता है, उस पर 307 का मुकदमा है. मैं और मेरा अब्दुल्लाह बेटा इलाहाबाद में हैं. हम पर 307 का मुकदमा दर्ज है.’

आजम खान ने कहा, ‘यह गैरत हमें लेकर डूब गई. दोस्तों कि कब्र में हमारे साथ यह इल्जाम भी जाएगा कि हमने मुर्गियां चुराई थी, हमने बकरियां चुराई थी, अल्लाह तूने हमें उस दिन मौत क्यों नहीं दे दी, जिस दिन हमने कोई ऐसा काम किया था.’

आजम ने कहा, ‘हमारी बीवी जो प्रोफेसर से रिटायर हुई हैं, जिसने हजारों बच्चे और बच्चियों को पढ़ाया है. यह भैंस चोर हैं. क्या हुआ हमारे साथ और क्यों हो रहा है, इसलिए कि हम आपका सौदा नहीं कर सके. आपको बेच नहीं सके. अपने आपको नहीं बेच सके.’

बता दें कि उत्तर प्रदेश में रामपुर विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए 21 अक्टूबर को मतदान किया जाएगा. वहीं 24 अक्टूबर को मतगणना की जाएगी.