छपाक पर मुलायम परिवार में ही रार, अखिलेश समर्थन तो ‘छोटी बहू’ ने विरोध में कही ऐसी बात

लखनऊ। एसिड अटैक पीड़िता पर बनी फिल्म छपाक रिलीज हो रही है, जेएनयू में हुए बवाल के बाद दीपिका पादुकोण कैम्पस पहुंची थी और छात्रों से मुलाकात की थी, जिसके बाद इस फिल्म के विरोध और समर्थन का खुला ऐलान हो रहा है, समाजवादी पार्टी के मुखिया और पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने तमाम कार्यकर्ताओं से अपील की है, वो इस फिल्म को जरुर देखें, संवेदनशील और सामाजिक मुद्दे पर बनी इस फिल्म को लेकर सपा ने लखनऊ के वेव मॉल में थिएटर बुक किया है, ताकि सपा कार्यकर्ताओं को ये फिल्म दिखाई जा सके।

पहला शो हाउसफुल
सपा मुखिया ने अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं के लिये संदेश जारी किया है, कि वो सिनेमा हॉल या थियेटर में जाकर फिल्म जरुर देखें, लखनऊ की बात करें, तो पहला शो ज्यादातर सिनेमाघरों और थिएटर में हाउसफुल है, सपा के हजारों कार्यकर्ता इस फिल्म को सफल बनाने में लग गये हैं।एसिड अटैक पीड़िताओं का रेस्टोरेंट
मालूम हो कि अखिलेश यादव जब यूपी के सीएम थे, तो उन्होने राजधानी लखनऊ में एसिड अटैक पीड़िताओं को एक छत के नीचे इकट्ठा करके एक रेस्टोरेंट खोला था, जिसे शिराज कैफे के नाम से जाना जाता है, इस कैफे में दर्जनों एसिड अटैक पीड़िता आज भी काम करती हैं, इन महिलाओं की रोजी-रोटी भी इससे ही चलती है, पिछले रविवार को एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण लखनऊ पहुंची थी, तो उन्होने इन महिलाओं के साथ अपना जन्मदिन मनाया था।

घर में ही विरोध
भले अखिलेश यादव इस फिल्म की खुलकर समर्थन कर रहे हों, लेकिन उनके घर में ही उनके छोटे भाई प्रतीक की पत्नी अपर्णा ने फिल्म को लेकर विरोध किया था, उन्होने ट्विटर पर लिखा, नदीम‌ खान ने लक्ष्मी अग्रवाल पर एसिड फेंका था ,फिल्म छपाक में नदीम खान को “राजेश” दिखाया गया है। क्यूँ ? इस ट्वीट को मुस्लिम समाज के विरोध में ना देखे यह बॉलीवुड की इन कलाकारों की कमी है।