बेटियों पर FIR होने पर मुनव्वर राना बोले- मुझ पर दर्ज करो मुकदमा, मैंने ऐसी बागी बेटियां पैदा की

लखनऊ। लखनऊ में धारा 144 लागू होने के बाद भी नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में हो रहे प्रदर्शन के मामले में पुलिस ने तीन मुकदमें दर्ज किए हैं। इनमें से एक मुकदमा मशहूर शायर मुनव्वर राना की दोनों बेटियों समेत 12 अज्ञात महिलाओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। बेटियों पर एफआईआर होने के बाद मुनव्वर राना ने कहा, ‘मेरे पर मुकदमा दर्ज करो, ऐसी बागी बेटियां पैदा की’

एक टीवी चैनल से बातचीत में मुन्नवर राना ने कहा कि लखनऊ में नागरिकता संशोधन कानून का विरोध पहले से चल रहा है और इसे रोकने के लिए शहर में धारा 144 लगाई गई है। उन्होंने कहा कि जब शहर में धारा 144 लगी है तो गृहमंत्री अमित शाह यहां सभा को संबोधित करने कैसे आ रहे हैं। मुन्नवर राना ने कहा कि यहां की सरकार कहती है उत्तर प्रदेश उत्तम प्रदेश है, यहां सब ठीक है। अगर यहां सब ठीक है तो धारा 144 क्यों लगाया गया।

मुन्नवर राना ने कहा कि ये लड़कियां, महिलाएं जो प्रदर्शन कर रही हैं उनके पास ना कागज है, ना घर है ना छत है। वो डर रही है कि हमसे नागरिकता मांगी जाए हमसे कागज मांगे जाए जो हम ना दे पाए जो हमें देश से ना निकाल दिया जाए।

बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में लखनऊ के घंटाघर में हो रहे प्रदर्शन के मामले में पुलिस ने सोमवार को 24 नामजद और 140 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। एडीसीपी पश्चिमी विकास चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि धारा 144 के चलते प्रदर्शन पूरी तरह असंवैधानिक है। घंटाघर के सामने पिछले चार दिनों से महिलाए अपने बच्चों के साथ नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रही हैं।