रणजीत बच्चन हत्याकांड: पुलिस की 6 टीमें गठित

लखनऊ। अखिल भारतीय हिंदू महासभा के प्रदेश अध्यक्ष रणजीत बच्चन की लखनऊ के पॉश इलाके में हुई हत्या से हड़कंप मचा हुआ है। लखनऊ पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने आरोपियों को पकड़ने के लिए छह टीमें गठित की है। इस घटना में रणजीत के भाई को भी गोली लगी है। उन्हें इलाज के लिए ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है।

रणजीत बच्चन पूर्व में समाजवादी पार्टी से जुड़े थे। वे पार्टी के लिए सांस्कृतिक कार्यकर्मों का आयोजन भी कराते थे। यहीं वजह है कि सपा की अखिलेश सरकार ने उन्हें हजरतगंज के ओसीआर बिल्डिंग में फ्लैट आवंटित किया था। बताया जा रहा है कि कुछ समय पूर्व रणजीत बच्चन का पत्नी से भी विवाद हुआ था। इस कारण पत्नी ने रणजीत के खिलाफ गोरखपुर में एफआईआर भी दर्ज करवाई थी। आज सुबह उनकी पत्नी और वे अलग-अलग मॉर्निंग वॉक के लिए निकले थे। ऐसे में पुलिस हर एंगल से मामले की जांच कर रही है।

जांच के लिए छह टीमें गठित

लखनऊ पुलिस कमिशन्नर सुजीत पांडेय ने रणजीत बच्चन हत्याकांड की जांच के लिए छह टीमें गठित की है। पुलिस उनसे जुड़ी हर गतिविधियों के बारे में पता कर रही है। वहीं उनके सोशल मीडिया अकाउंट भी खंगाले जा रहे हैं। दूसरी तरफ उनके यहां आने-जाने वाले और परिवार के अन्य लोगों से भी पुलिस की टीम जानकारी इकट्ठा कर रही है।